दुश्मन के नाक के नीचे से वार करेगा अपाचे, भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ी..

अमेरिका सेना में शामिल अपाचे हेलीकाप्टर भारतीय वायुसेना में शामिल हुए,
दुश्मन के नाक के नीचे से वार करेगा अपाचे, भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ी..

न्यूज – भारतीय वायुसेना में अब 8 और AH-64Eअपाचे हेलिकॉप्टर शामिल हो चुके हैं, जिससे एयरफोर्स को नई ताकत मिलेगी, पठानकोट एयरबेस पर ये 8 अपाचे हेलिकॉप्टर इंडियन एयरफोर्स का हिस्सा बन गए है, इस मौके पर एयरफोर्स चीफ बीएस धनोआ भी मौजूद रहे। अपाचे हेलिकॉप्टर दुनिया के सबसे उन्नत बहुद्देश्यीय लड़ाकू हेलिकॉप्टरों में से एक हैं जिसे अमेरिकी सेना उड़ाती है।

भारत ने अमेरिकी एरोस्पेस कंपनी बोइंग के साथ 4168 करोड़ रुपये में कुल 22 हेलिकॉप्टर का सौदा किया था, जिसके बाद 27 जुलाई को इसकी पहली डिलीवरी हुई, 27 जुलाई 2019 को बोइंग ने पहले चार अपाचे हेलिकॉप्टर इंडियन एयरफोर्स को सौंपे थे।

अपाचे हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल दुश्मन के इलाके में आसानी से घुसने में भी किया जाता है, अमेरिकी सेना अपने कई मिशनों में इन हेलिकॉप्टर्स का इस्तेमाल कर चुकी है, अपाचे हेलिकॉप्टर दुश्मन की नाक के नीचे किसी भी मिशन को पूरा करने में सक्षम है, इसे छिपकर वार करने के लिए जाना जाता है।

खासियत

दुश्मन के इलाके में आसानी से घुसने की क्षमता रखता है,जमीन के काफी करीब उड़ान भरने में कारगर है।हवा से जमीन में मार करने वाली मिसाइलों और बंदूकों से लैस है ये अपाचे हेलिकॉप्टर,अपाचे हेलिकॉप्टर में सटीक निशाने के लिए हेलफायर मिसाइल लगी हैं,

दिन के अलावा रात में भी आसानी से कहीं भी जाने में सक्षम ये हेलीकाप्टर सिर्फ 1 मिनट में 128 टारगेट को बना सकते है निशाना साथ ही किसी भी मौसम में उड़ान भरने और आसानी से टारगेट डिटेक्ट करने में सक्षम है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com