जीवन बीमा को लेकर है कंफ्यूज? जाने Term Insurance और Life Insurance के बीच में क्या है अंतर

यदि बीमाधारक की असामयिक मृत्यु हो जाती है तो उसके लाभार्थी को उस स्थिति में निश्चित राशि दी जाती है। हालाँकि यदि बीमारधारक की मृत्यु पॉलिसी अवधि के दौरान नहीं होती तो फिर उसे या उसके लाभार्थी को कुछ नहीं मिलता।
जीवन बीमा को लेकर है कंफ्यूज? जाने Term Insurance और Life Insurance के बीच में क्या है अंतर

जीवन बीमा देश में जितना लोकप्रिय है उतना ही इसको लेकर कन्फयूजन भी है। जीवन बीमा यानी की Life Insurance में निवेश करने का सबसे पॉपुलर तरीका Term Insurance माना जाता है। तो आइये जानते है आज इसी के बारे में:-

कितने तरह का होता है

Term Insurance दो रहे का होता है - पहला Regular Term Insurance और दूसरा आजीवन बीमा।

Regular Term Insurance
इसको Term Insurance के नाम से भी जाना जाता है। ये पॉलिसी तय समय तक के लिए वैध रहती है और यदि बीमाधारक की असामयिक मृत्यु हो जाती है तो उसके लाभार्थी को उस स्थिति में निश्चित राशि दी जाती है। हालाँकि यदि बीमारधारक की मृत्यु पॉलिसी अवधि के दौरान नहीं होती तो फिर उसे या उसके लाभार्थी को कुछ नहीं मिलता। Term Insurance के लिए हर साल प्रीमियम का भुगतान करना होता है। इसमें युवाओ के लिए प्रीमियम राशि का भुगतान कम रखा जाता है जबकि अधिक उम्र वाले पॉलिसी होल्डर के लिए प्रीमियम का भुगतान भी बढ़ता जाता है।
आजीवन लाइफ इंश्योरेंस
ये Term Insurance से उलट जीवनभर के लिए होता है। इसमें ली गई Insurance Policy जीवनभर के लिए वैध होती है। इसके अलावा इसमें बीमाधारक की जब भी मृत्यु होती है तो उसके लाभार्थी को निश्चित राशि मिलना तय होती है। इसके अलावा Life Insurance में भी प्रीमियम का सालाना भुगतान होता है, लेकिन कि इसमें Term Insurance से उलट समय के साथ साथ प्रीमियम का भुगतान नहीं बढ़ता है।

आजीवन Life Insurance में पॉलिसी होल्डर जीवन भर एक-समान प्रीमियम का भुगतान करता है हालाँकि इसमें प्रीमियम की राशि Regular Term Insurance के मुकाबले अधिक हो सकता है। इसके अलावा कुछ आजीवन टर्म इंश्योरेंस में पॉलिसी होल्डर के सामने ये विकल्प भी होता है वे जब चाहें अपना प्रीमियम चुकाना बंद करके उस समय तक जमा की गई राशि को वापस ले ले।

जीवन बीमा को लेकर है कंफ्यूज? जाने Term Insurance और Life Insurance के बीच में क्या है अंतर
WhatsApp में आए ये नए बदलाव, इन फिचर का यूजर्स को था इंतजार

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com