देश में कोरोना के 231 दिन बाद सबसे कम मामले, केरल में भी सुधर रहे हालात

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार थमती नजर आ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के सिर्फ 13 हजार 58 मामले सामने आए हैं। इस दौरान इस जानलेवा वायरस से 164 लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में 231 दिनों में संक्रमण के ये सबसे कम मामले सामने आए हैं।
देश में कोरोना के 231 दिन बाद सबसे कम मामले, केरल में भी सुधर रहे हालात

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार थमती नजर आ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के सिर्फ 13 हजार 58 मामले सामने आए हैं। इस दौरान इस जानलेवा वायरस से 164 लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में 231 दिनों में संक्रमण के ये सबसे कम मामले सामने आए हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में 19 हजार 470 लोग इस संक्रमण को मात दे चुके हैं। इधर केरल में भी स्थिति में सुधार होता दिख रहा है। पिछले 24 घंटे पर नजर डालें तो पूरे राज्य से कोरोना संक्रमण के सिर्फ 6 हजार 676 मामले सामने आए हैं और 60 लोगों की मौत हुई है।

227 दिनों में सबसे काम मामलों का आंकड़ा

भारत में अब कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय मामले 2 लाख (1,83,118) से कम हैं। ये 227 दिनों में देश में सबसे कम सक्रिय मामले हैं। ऐसे में अगर यह कहा जाए कि भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार धीमी हो गई है तो कुछ गलत नहीं होगा. वैसे आपको बता दें कि भारत में अब तक 3 करोड़ 40 लाख 94 हजार 373 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। अच्छी बात यह है कि 3 करोड़ 34 लाख 58 हजार 801 लोग इस जानलेवा वायरस की चपेट से बाहर आ चुके हैं। भारत में अब तक 4 लाख 52 हजार 454 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है।

98 करोड़ डोज अब तक दी जा चुकी

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए कई बड़े और कड़े कदम उठाए गए। इसमें लॉकडाउन से लेकर कोरोना टीकाकरण अभियान तक सब कुछ शामिल है। इसी का नतीजा है कि देश में कोरोना वायरस दम तोड़ता नजर आ रहा है। कई विकसित देशों की तुलना में भारत में कोरोना टीकाकरण की गति बहुत तेज है। अब तक 98 करोड़ से ज्यादा कोरोना की डोज दी जा चुकी है। अक्टूबर में मोदी सरकार ने 100 करोड़ कोरोना टीकाकरण का लक्ष्य रखा था, जो कुछ ही दिनों में पूरा होने जा रहा है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com