बच्चों का वैक्सीनेशन : 3 जनवरी से शुरू होगा 5 से 18 साल तक के बच्चों का वैक्सीनेशन, जानिए वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस

कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन के खतरे के बीच देशवासियों को नई सौगात मिली हैं। 3 जनवरी से देश में 15 से 18 साल तक के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। 1 जनवरी से इसके लिए आप रजिस्ट्रेशन भी करवा सकते है। CoWIN प्लेटफॉर्म चीफ डॉ आरएस शर्मा ने बताया कि इसके लिए आप कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे।
बच्चों का वैक्सीनेशन : 3 जनवरी से शुरू होगा 5 से 18 साल तक के बच्चों का वैक्सीनेशन, जानिए वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस

बच्चों का वैक्सीनेशन : 3 जनवरी से शुरू होगा 5 से 18 साल तक के बच्चों का वैक्सीनेशन, जानिए वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस

Image Credit : TV 9 Bharatvarsh

कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन के खतरे के बीच देशवासियों को नई सौगात मिली हैं। 3 जनवरी से देश में 15 से 18 साल तक के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। 1 जनवरी से इसके लिए आप रजिस्ट्रेशन भी करवा सकते है। CoWIN प्लेटफॉर्म चीफ डॉ आरएस शर्मा ने बताया कि इसके लिए आप कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। डॉ. आरएस शर्मा ने बताया कि पंजीकरण के लिए 10वीं के पहचान पत्र को भी आइडेंटिटी प्रूफ माना जाएगा। ऐसा इसलिए है क्योंकि कुछ छात्रों के पास आधार कार्ड या कोई अन्य पहचान पत्र नहीं होगा।

लगे हाथ वैक्सीन पंजीकरण की प्रक्रिया भी जान लीजिए
सबसे पहले कोविन एप पर जाएं और अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें। मोबाइल नंबर डालने पर आपको OTP प्राप्त होगा। उसे डालकर लॉग इन करें। अब आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट, पेंशन पासबुक, एनपीआर स्मार्ट कार्ड, वोटर आईडी, यूनिक डिसेबिलिटी आईडी या राशन कार्ड में से कोई एक फोटो आईडी प्रूफ चुनें। आपके द्वारा चुनी गई आईडी का नंबर और नाम दर्ज करें। इसके बाद जेंडर और डेट ऑफ बर्थ चुनें। मेंबर एड के बाद आप अपने नजदीकी क्षेत्र का पिन कोड डालें। पिन कोड डालने के बाद टीकाकरण केंद्रों की सूची आएगी। अब टीकाकरण की तिथि, समय और वैक्सीन का चयन करें और फिर केंद्र पर जाकर टीका लगवाएं। टीकाकरण केंद्र पर आपको रेफरेंस आईडी और सीक्रेट कोड देना होगा, जो आपको रजिस्ट्रेशन करने पर मिलता है। इसी तरह आप अपने लॉगिन में अन्य सदस्यों को जोड़कर अपना टीकाकरण पंजीकृत कर सकते हैं। 12 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों पर आपातकालीन उपयोग के लिए कोवैक्सीन को मंजूरी दी गईI
<div class="paragraphs"><p>वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस</p></div>

वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस

Image By : Naidunia

15 साल से कम आयु वर्ग के लिए फिलहाल कोई वैक्सीन नहीं

बता दें कि, फिलहाल देश में 15 से 18 साल के बच्चों को ही कोरोना की वैक्सीन दी जाएगी। इससे छोटे बच्चों के टीकाकरण पर सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया है। हालांकि, ड्रग कंट्रोलर ने 12 से 18 साल के बच्चों पर आपातकालीन उपयोग के लिए भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को मंजूरी दे दी हैं, लेकिन सरकार ने केवल 15 से 18 साल के बच्चों के लिए ही टीकाकरण शुरू करने का फैसला किया है।

देश में 15-18 साल के आयु वर्ग के करीब 10 करोड़ बच्चे

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, देश में 15 से 18 साल की उम्र के करीब 10 करोड़ बच्चे हैं। सरकार की कोशिश होगी कि इन बच्चों को जल्द से जल्द वैक्सीन की पहली खुराक दी जाए। जैसे की मालूम है कि देश में लंबे समय से बच्चों के टीके की मांग की जा रही है।

30 से अधिक देशों में किया जा रहा हैं बच्चों का टीकाकरण

दुनिया भर के 30 से अधिक देश अलग-अलग परिस्थितियों वाले बच्चों को कोरोना की वैक्सीन दे रहे हैं। क्यूबा में 2 साल से ऊपर के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है, जबकि दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और फिलीपींस में 12 साल से ऊपर के बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube

<div class="paragraphs"><p>बच्चों का वैक्सीनेशन : 3 जनवरी से शुरू होगा 5 से 18 साल तक के बच्चों का वैक्सीनेशन, जानिए वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस</p></div>
 सिंगल डोज वाली Sputnik Light Vaccine का सितंबर में शुरू होगा उत्पादन, भारत में डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरी लगाएगी

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com