रिलायंस का JioMart ग्रॉसरी स्टोर देशभर में लांच

Reliance JioMart देशभर के 200 से ज्यादा शहरों में ग्रॉसरी आइटम की होम डिलीवरी करेगी। सीधा मुकाबला अमेजन, फ्लिपकार्ट व ग्रोफर्स जैसी कंपनियों से है।
रिलायंस का JioMart ग्रॉसरी स्टोर देशभर में लांच

डेस्क न्यूज़ – मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज अब किराना सेवाओं के क्षेत्र में प्रवेश कर चुकी है। रविवार को की गई घोषणा के अनुसार, रिलायंस ने देश के लिए अपनी ऑनलाइन किराना सेवा JioMart लॉन्च की है। रिलायंस रिटेल के किराना डिवीजन के प्रमुख दामोदर मॉल ने ट्विटर पर इसकी घोषणा की। मल्ल ने कहा, JioMart देश भर में 200 से अधिक शहरों में किराने की वस्तुओं की घर पहुंच सेवा प्रदान करेगा। रिलायंस इस मामले में खुद की तुलना चीन के दिग्गज अलीबाबा से कर रहा है। मल्ला का कहना है कि देश में अभी कोरोना वायरस का संकट है और इस तरह कोई संकट नहीं आना चाहिए। SARS के दौरान चीनी रिटेल दिग्गज अलीबाबा ने भी काफी प्रगति की।

हालांकि, किराना सेवाओं के क्षेत्र में, रिलायंस का भारतीय ऑनलाइन रिटेल दिग्गज अमेज़न और वॉलमार्ट की भारतीय ऑनलाइन शॉपिंग शाखाओं यानी अमेज़न इंडिया और फ्लिपकार्ट के साथसाथ स्थानीय कंपनियों जैसे BigBasket और Growers से सीधा मुकाबला है।

जियो प्लेटफॉर्म्स में फेसबुक ने किया था निवेश

आपको बता दें कि, वर्तमान में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड अपने अधिकारों के मुद्दे के माध्यम से 53,000 करोड़ रुपये से अधिक के शेयर बेचने की प्रक्रिया में है। यही कारण है कि JioMart की आधिकारिक लॉन्च की घोषणा अभी तक कंपनी द्वारा नहीं की गई है। कंपनी ने JioMart का पायलट परीक्षण मुंबई के चुनिंदा इलाकों में पिछले महीने के आखिरी दिनों से शुरू कर दिया था, जब फेसबुक ने Jio प्लेटफार्मों में अपने निवेश की घोषणा की थी।

पिछले महीने दुनिया की प्रमुख सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के डिजिटल आर्म Jio प्लेटफॉर्म्स में 42,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया। हालांकि, चार और कंपनियों ने Jio प्लेटफार्मों में निवेश किया है।

JioMart के तहत, रिलायंस ने व्हाट्सएप के 40 करोड़ से अधिक भारतीय ग्राहकों को किराने की दुकानों से होम डिलीवरी की सुविधा प्रदान करने का लक्ष्य रखा है। कंपनी इन ग्राहकों से ऑनलाइन ऑर्डर लेगी और स्थानीय किराना स्टोर के माध्यम से उन्हें पूरा करेगी। यह अब तक ऑनलाइन दिग्गज खुदरा दिग्गजों के लिए एक सीधी और बड़ी चुनौती पेश करने की संभावना है। उम्मीद है कि आम ग्राहकों को इस प्रतियोगिता का लाभ मिलेगा।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com