शनिवार, जुलाई 24, 2021

सीन्स इंडिपेंडेंस की इस मुहीम में साथ मिलकर कोरोना से लड़ें।

हम कैसे इस कोरोना पेंडेमिक में आपकी मदद कर सकते है ?

since independence

भारत में जिस तरीके से कोरोना महामारी ने हर वर्ग के व्यक्ति की कमर तोड़के रख दी है ,वही सीन्स इंडिपेंडेंस इस विकट स्थिति में अपील करता है हाथ से हाथ मिलाकर साथ खड़े होने की।

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इकनॉमी Covid 19 रिपोर्ट

सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इकनॉमी यानी सीएमआईई (CMIE) ने पहले लॉक डाउन के समय में कहा था। कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन की वजह से नौकरी गंवाने वालों की संख्या 1.89 करोड़ तक पहुंच गई थी । जून में अनलॉक की प्रक्रिया के साथ ही नौकरियां में कुछ रिकवरी दिखने लगी थी, लेकिन लोकल लेवल पर लगने वाले छोटे-छोटे लॉकडाउन की वजह से जुलाई में नौकरियों में फिर से गिरावट देखने को मिल रही है।
ये लॉकडाउन तमाम कंटेनमेंट जोन में रहे थे, ताकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके। लेकिन मौजूदा हालात की बात करे तो फिर से भारत के कई राज्यों में लाकडाउन लग गया है और कोरोना के प्रकोप से आम नागरिक की आर्थिक स्थिति भयावह बनी हुई है।

Covid 19

Total Vaccination : 15,49,89,635 (27,44,48)

+ 0
Active (17.06%)
+ 0
Discharged (81.84%)
+ 0
Deaths (1.11%)

"आओ मिलकर हाथ से हाथ मिलाए"

CMIE की रिपोर्ट के अनुसार 1.77 करोड़ लोगों ने अप्रैल में नौकरी गंवाई थी और मई में करीब 1 लाख लोगों की नौकरी गई। इसके बाद जून में करीब 39 लाख लोगों को नौकरी वापस मिल गई थी। लेकिन आज वर्तमान पारिद्रस्य का आईना हम देखे तो दिहाड़ी मजदूर वर्ग हो या रोज कमाकर खाने वाला व्यक्ति,आज फिर से लाचार स्थिति में आकर खड़ा हो गया है।

हमसे सोशल मीडिया के जरिये जुड़ें —

कोविड -19 से जुड़े ज़वाब

ज्यादा जानकरी के लिए हमसे संपर्क करें
  1. रोगी का इलाज करने वाले चिकित्सा अधिकारी को औपचरिक रूप से यह पुष्टि करनी चाहिए कि रोगी में वायरस के लक्षण मामूली या शुरआती हैं।
  2. घर में सेल्फ क्वॉरन्टीन के लिए पर्याप्त सुविधाएं होनी चाहिए।
    किसी को 24X7 घर पर देखभाल के लिए होना चाहिए।
    मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करें और इसे सक्रिय किया जाना चाहिए।
  3. रोगी अपने स्वास्थ्य की निगरानी के लिए सहमत है और नियमित रूप से निगरानी टीमों द्वारा आगे की निगरानी के लिए अपने स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में जिला निगरानी अधिकारी को सूचित करता रहे ।

कोरोनावायरस बीमारी(कोविड-19) से जुड़ी ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए  संपर्क पर जाएं।

  1. जो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और घर पर क्वॉरन्टीन में हैं उन्हें डॉक्टर की सलाह के अलावा कई बातों का ध्यान रखना चाहिए।
  2. मरीजों को एक अलग कमरे में रहना चाहिए, दूसरों से दूर, विशेष रूप से बुजुर्गों से।
    उन्हें हर समय ट्रिपल लेयर मास्क पहनना चाहिए। स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशों के अनुसार, मास्क को हर 8 घंटे के बाद बदलना चाहिए।
  3. अधिक तरल पदार्थ पीएं और अपने आप को हाइड्रेटेड रखें, नियमित रूप से तापमान की जाँच करें।
  4. रोगी ने समय-समय पर साबुन से कम से कम 40 सेकंड तक हाथ धोए।
  5. किसी और के साथ कुछ भी साझा न करें, जैसे कि प्लेट, कंघी।

कोरोनावायरस बीमारी(कोविड-19) से जुड़ी ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए  संपर्क पर जाएं।

  1. जब रोगी के साथ कमरे में हों , एक ट्रिपल परत मास्क पहनें। उपयोग के बाद मास्क फेंक दें। अपने चेहरे, आंखों, नाक या मुंह को छूने से बचें।
  2. रोगी की देखभाल करते समय हमेशा दस्ताने पहनें। दस्ताने उतारने से पहले और बाद में हाथों को साबुन से अच्छी तरह से धोएं।
  3. जितना संभव हो, रोगी के सीधे संपर्क होने से बचें।
  4. दस्ताने का उपयोग करके रोगी द्वारा उपयोग किए गए बर्तनों को साफ करें।
  5. 1% हाइपोक्लोराइट घोल के साथ उन वस्तुओं को साफ करें, जिन्हें रोगी कमरे में छूता है, जैसे दरवाज़े के हैंडल, टेबल आदि।
    हाथ साफ रखें। स्वच्छता का पालन करें। धोने के बाद पोंछने के लिए एक नैपकिन का उपयोग करें और फिर इसे फेंक दें।
  6. रोगी को उसके कमरे में भोजन दें।
    कोरोनावायरस बीमारी(कोविड-19) से जुड़ी ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए  संपर्क पर जाएं।
यदि लक्षण मेडिकल स्टाफ की देख-रेख से हल किए गए हैं और निगरानी चिकित्सा अधिकारी रोगी को प्रयोगशाला परीक्षण के बाद संक्रमण से मुक्त होने के लिए प्रमाणित करता है। कोरोनावायरस बीमारी(कोविड-19) से जुड़ी ज़्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए  संपर्क पर जाएं।

कोविड -19 से जुड़ी सहायता पाने के लिए हमसे संपर्क करें