उदयपुर हत्याकांड: NIA को दिया चारों आरोपियों का 10 दिन का रिमांड, कोर्ट के बाहर वकिलों का प्रर्दशन फांसी की मांग

एनआईए ने दोपहर करीब 1.30 बजे चारों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में दो घंटे चली सुनवाई के दौरान बाहर मौजूद वकीलों ने हंगामा किया। कन्हैयालाल के दोषियों को फांसी देने की मांग स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए कोर्ट परिसर में एसटीएफ व करीब एक दर्जन थानों को बुलाकर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है
उदयपुर हत्याकांड: NIA को दिया चारों आरोपियों का 10 दिन का रिमांड, कोर्ट के बाहर वकिलों का प्रर्दशन फांसी की मांग

उदयपुर हत्याकांड मामले में एनआईए आज चारों आरोपियों को अजमेर सेंट्रल जेल से जयपुर ले आई है। जिसके दोपहर करीब 1.30 बजे जयपुर स्थित एनआईए कोर्ट में पेश किया गया। करीब 2 घंटे तक कोर्ट में सुनवाई चलती रही। जिसके बाद चारों आरोपियों को 10 दिन के रिमांड पर सौंप दिया गया। कोर्ट से बाहर निकलते समय वकीलों ने आरोपी की पिटाई कर दी। उन्होंने पानी के खाली बोतल फेंक कर विरोध भी किया। कोर्ट के आदेश पर अब एनआईए चारों आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ करेगी। हालांकि एनआईए पहले कह चुकी है कि उनका आतंकी संगठनों से कोई संबंध नहीं है, लेकिन कल ही एसओजी के एडीजी ने कहा है कि इन बदमाशों का पाकिस्तान से कनेक्शन है।

आरोपियों को दिल्ली नहीं ले जाएगी एनआईए
इससे पहले शनिवार सुबह टीम चारों को जयपुर ले गई। यहां से सभी को एटीएस कार्यालय ले जाया गया। यहां से उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। हालांकि, एनआईए ने दो दिन पहले कहा था कि वह इन आरोपियों को दिल्ली नहीं ले जाएगी। ऐसे में जयपुर में ही उनसे पूछताछ की संभावना है। कोर्ट में पेशी के दौरान एनआईए के एडिशनल एसपी और एटीएस के एडिशनल एसपी मौजूद रहेंगे।

जेल को एक-दो बैरक खाली करने के आदेश

कोर्ट ने चारों की रिमांड नहीं दी तो बदमाशों को जयपुर सेंट्रल जेल शिफ्ट कर दिया जाएगा। ऐसे में जेल प्रशासन को भी अलर्ट रहने को कहा गया है। जेल की ओर से इन बदमाशों के लिए जेल में अलग बैरक की व्यवस्था की गई है।

कोर्ट में वकीलों का हंगामा-फांसी की मांग

एनआईए ने दोपहर करीब 1.30 बजे चारों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में दो घंटे चली सुनवाई के दौरान बाहर मौजूद वकीलों ने हंगामा किया। कन्हैयालाल के दोषियों को फांसी देने की मांग स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए कोर्ट परिसर में एसटीएफ व करीब एक दर्जन थानों को बुलाकर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

पानी के खाली बोतल फेंके

कोर्ट ने चारों आरोपियों को 12 जुलाई तक एनआईए के हवाले कर दिया है। एनआईए जब आरोपियों को कोर्ट से बाहर लेकर निकली तो वहां मौजूद वकील भड़क गए। आरोपियों को ले जाते समय वकीलों ने उनकी पिटाई कर दी। कोर्ट परिसर में तैनात जाब्ता बीच-बचाव कर वहां से सुरक्षित बाहर निकल आया। इस दौरान वकीलों ने आरोपित पर पानी के खाली बोतल भी फेंके।

उदयपुर हत्याकांड: NIA को दिया चारों आरोपियों का 10 दिन का रिमांड, कोर्ट के बाहर वकिलों का प्रर्दशन फांसी की मांग
जयपुर के NIA कोर्ट में पेश होंगे उदयपुर हत्याकांड के आरोपी, पाकिस्तान से जुड़े आरोपियों के तार

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com