राजस्थान में RTI कार्यकर्ता पर जानलेवा हमला, सुनसान जगह लेकर जाकर तोड़े एक हाथ और दोनो पैर,पैरों में घुसाया सरिया फिर कीलें ठोकी

राजस्थान के बाड़मेर जिले के गिड़ा थाना क्षेत्र में RTIकार्यकर्ता अमराराम को अज्ञात बदमाशों ने किडनैप कर बेरहमी से पिटाई की, फिलहाल अमराराम का जोधपुर के अस्पताल में इलाज जारी है.
राजस्थान में RTI कार्यकर्ता पर जानलेवा हमला, सुनसान जगह लेकर जाकर तोड़े एक हाथ और दोनो पैर,पैरों में  घुसाया सरिया फिर कीलें ठोकी

राजस्थान में RTI कार्यकर्ता अमराराम पर जानलेवा हमला

राजस्थान में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित बाड़मेर जिले के गिड़ा थाना इलाके में कुछ बदमाशों ने RTI कार्यकर्ता अमराराम पर जानलेवा हमला कर दिया. हमलावरों ने अमराराम का किडनैप करने के बाद उसकी क्रूरता से पिटाई कर उसे अमानवीय यातनाएं दीं. हमलावरों ने RTI कार्यकर्ता के दोनों पैर और एक हाथ तोड़ दिया. यही नहीं क्रूरता की हदें पार करते हुए उसके पैरों में कील ठोक दी. पांवों में सरिया डालकर घुमाया और पेशाब भी पिलाया. उसके बाद उसे गांव के पास सड़क किनारे फेंक कर चले गए.घटना के दो दिन बीत जाने के बाद भी आरोपी गिरफ्त से बाहर हैं. इस मामले में अब राजस्थान राज्य मानव अधिकार आयोग ने राजस्थान पुलिस महानिदेशक, आबकारी आयुक्त उदयपुर, बाड़मेर कलेक्टर व SP से तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए है. नोटिस में कहा है कि हमले के पीछे अपराधियों व पुलिस की आपसी मिलीभगत सामने आ रही है. दिए गए नोटिस में 5 सवालों के जवाब 28 दिसंबर तक मांगे हैं। इस मामले में सीएमओ (मुख्यमंत्री कार्यालय) ने जिला कलेक्टर और एसपी से रिपोर्ट मांगी है.

<div class="paragraphs"><p>फाइल फोटो</p></div>

फाइल फोटो

सुनसान जगह ले जाकर सरियों से मार-मार कर हाथ पैर तोड़े, पैरों में सरिया घुसाया फिर कीलें ठोक डाली -

इलाज के बाद जब RTI कार्यकर्ता अमराराम को होश आया तो उन्होने पुलिस को रिपोर्ट दी कि वह 21 दिसंबर की शाम 7 बजे जोधपुर से वापस अपने गांव आ रहे थे. बस से उतर कर पैदल ही जसोड़ो की बेरी जा रहा था। इस दौरान एक सफेद स्कार्पियो में 6 लोग मुंह बांधे हुए उतरे और उसे जबरदस्ती पकड़ कर गाड़ी में डाल दिया. फिर उन्हे सुनसान जगह पर ले गए. बदमाशों ने कहा पिछले काफी दिनों से कुंपलिया पूर्व सरपंच नगराज, वर्तमान सरपंच ममता, मानाराम पुत्र भोलाराम, नेमाराम लखारा शराब ठेकेदार पेरऊ के खिलाफ शिकायत और RTI लगा रहे हो। आज तुम्हे जिंदा नहीं छोड़ेंगे. बाद में बदमाशों ने सरियों, लाठियों, चेन, वायर से उसके साथ मारपीट की। इसके अलावा उसके पैरों में कीलें ठोंक डाली.

जोधपुर में जारी है अमराराम का इलाज -

घायल अवस्था मे RTI कार्यकर्ता को परेऊ अस्पताल में इलाज के लिए लेकर जाया गया. जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे बालोतरा रेफर किया गया. जहां हालत गंभीर होने के कारण जोधपुर रेफर किया गया. जोधपुर एमडीएम अस्पताल में भर्ती है। SP दीपक भार्गव ने मामले की गंभीरता को देखते हुए ASP नरपतसिंह को जोधपुर अस्पताल भेजा।

मानवाधिकार आयोग सभी संबधित अधिकारियों से मांग जवाब -

मामले को देखेत हुए राजस्थान राज्य मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास ने ओमाराम बंजारा चोटिया पाली के एप्लिकेशन पर नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. आयोग ने महानिदेशक पुलिस और SP से जवाब मांगा है. घटना के बाद भी कई सवाल खड़े हो रहे है. कि अमराराम गोदारा के पैरों में कीलें गाड़ने वाले अपराधियों के खिलाफ क्या कार्रवाई हुई? शराब माफियों के खिलाफ अभी तक क्या-क्या कार्रवाई हुई. वही आयुक्त आबकारी उदयपुर से जवाब तलब किया गया है कि बाड़मेर में अवैध शराब माफिया को लेकर साथ ही अमराराम की शिकायतों पर क्या-क्या कार्रवाई हुई. कलेक्टर से जवाब तलब किया है कि RTI कार्यकर्ता अमराराम पंचायती राज विभाग के संबंध में किन-किन गड़बड़ियों के संबंध में शिकायत की और उस पर अभी तक क्या क्या कार्रवाई हुई.

घटना के संदर्भ में CMO ने कलेक्टर व एसपी से मांगी रिपोर्ट -

RTI कार्यकर्ता अमराराम गोदारा के साथ हुई मारपीट को लेकर सीएमओ आफिस ने कलेक्टर और एसपी से तथ्यों के साथ रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए है. वही दोनों को निर्देश दिए गए हैं कि जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी हो. जिला कलेक्टर लोक बंधु ने कहा कि अमराराम के साथ मारपीट करने वाले लोगों को और इस मामले में जिसने साजिश रची है उनकी जल्द गिरफ्तारी होगी.

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com