व्यापार में किया समझौता निकला ठग: जयपुर में चोखी ढाणी के प्रबंधन से हुई 14.9 लाख की साइबर 'ठगी'

चोखी ढाणी प्रबंधन ने दो दिन में 14 लाख 9हजार 494 रुपए ट्रांसफर करवा दिए,उसके बाद एक श्री विनायक इंडिया के मैनेजर ने फोन करके पैसे मांगे तो ठगी का पता चला
चोखी ढाणी जयपुर
चोखी ढाणी जयपुर

राजधानी जयपुर में साइबर ठगी का एक बड़ा मामला सामने आया है। ठग ने ई - मेल आईडी को हैक करके 14. 9 रुपये की ठगी की है। ठगों ने चोखी ढाणी के मैनेजर से बड़े शातिर तरीके से मेल ID को चेंज कराया और अपने ठग के काम को अंजाम दिया।

महावीर नगर कोटा निवासी विकास जैन ने कमिश्नरेट के विशेष अपराध एवं सायबर क्राइम थाने में यह रिपोर्ट दर्ज करवाई हैं। जैन ने बताया कि उनकी कंपनी ने विदेश में माल सप्लाई करने के लिए एक कंपनी श्री विनायक इंडिया से समझौता कर रखा है। जिससे लेन-देन का कार्य ऑनलाइन किया जा रहा है।

ठग ने बड़े शातिर तरीके से अपनी ठगी को अंजाम दिया
ठग ने बड़े शातिर तरीके से अपनी ठगी को अंजाम दिया
जांच से सामने आया यूपी का है बैंक खाता, जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने बैंक खाते की डिटेल निकाली तो बैंक खाता बुलंदशहर यूपी का निकाला। जिसके बाद तत्काल प्रभाव से साइबर टीम ने पैसा खाते में फ्रीज करवाया । साथ ही एक टीम को मौके के लिए रवाना किया गया। हालांकि अभी तक पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगे हैं। लेकिन साइबर थाना पुलिस इस मामले को लेकर ऑपरेशन कर रही हैं।

ऐसे में 17 अगस्त को श्री विनायक इंडिया की तरफ से ई-मेल आया कि पैसे भेजने के लिए अकाउंट डिटेल बदले। उक्त मेल में यूपी के बुलंदशहर के एक बैंक खाते के नंबर अटैच थे। उसके बाद चोखी ढाणी प्रबंधन ने दो दिन में 14 लाख 9हजार 494 रुपए ट्रांसफर करवा दिए। उसके बाद एक श्री विनायक इंडिया के मैनेजर ने फोन करके पैसे मांगे तो ठगी का पता चला।साइबर थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करके ट्रांजेक्शन डिटेल के आधार पर मामले की जांच शुरु की।

Since independence
hindi.sinceindependence.com