छठी कक्षा की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्मः पड़ोसी और दोस्त अगवा करके जंगल में ले गये, बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया

जयपुर में छठी कक्षा में पढ़ने वाली 11 वर्षीय बच्ची के साथ दिनदहाड़े सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. मंगलवार को घटना में शामिल दो आरोपियों को मालपुरा गेट थाने ने गिरफ्तार किया है. उनको आज कोर्ट में पेश किया जाएगा और रिमांड पर लिया जाएगा। घटना के बाद फरार हुए एक आरोपी को पुलिस ने उस वक्त पकड़ लिया जब वह परीक्षा देने स्कूल जा रहा था.
छठी कक्षा की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्मः पड़ोसी और दोस्त अगवा करके जंगल में ले गये, बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया

जयपुर में छठी कक्षा में पढ़ने वाली 11 वर्षीय बच्ची के साथ दिनदहाड़े सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. मंगलवार को घटना में शामिल दो आरोपियों को मालपुरा गेट थाने ने गिरफ्तार किया है. उनको आज कोर्ट में पेश किया जाएगा और रिमांड पर लिया जाएगा। घटना के बाद फरार हुए एक आरोपी को पुलिस ने उस वक्त पकड़ लिया जब वह परीक्षा देने स्कूल जा रहा था.

जयपुर में छठी कक्षा में पढ़ने वाली 11 वर्षीय बच्ची के साथ दिनदहाड़े सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया

डीसीपी (दक्षिण) हरेंद्र महावर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी आशु

कुमार सिंघल (19) सवाई माधोपुर जिले के बौंली का रहने वाला है.

जयपुर में मालपुरा गेट कृषि नगर में रहता है। दूसरा आरोपी

राजकुमार नागर (22) बूंदी जिले के नैनवा क्षेत्र के पांडुला का रहने

वाला है. वह भी मालपुरा गेट इलाके में किराए पर रहता है।

ये दोनों आरोपी एक फैक्ट्री में काम करते हैं। दोनों में गहरी दोस्ती है।

इनमें राजकुमार शादीशुदा है। आशु सिंघल एक ओपन यूनिवर्सिटी से 10वीं की पढ़ाई कर रहा हैं।

सहेली के साथ जाते वक्त बहला कर झालाना के जंगल में ले गए

पुलिस के मुताबिक 11 साल की बच्ची के पिता ने 18 अक्टूबर को मालपुरा गेट थाने में मामला दर्ज कराया था. बताया गया कि 16 अक्टूबर को उसकी बेटी घर से कुछ दूरी पर अपनी सहेली के घर जा रही थी. तभी राजकुमार और आशु सिंघल ने उसे अकेला देखा। दोनों ने लड़की को बहला-फुसलाकर अपने साथ बाइक पर बिठा लिया। इसके बाद जगतपुरा होते हुए उन्हें झालाना के जंगलों में ले गया। वहीं सुनसान पाकर दोनों युवकों ने बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

घर पहुंचने पर मां को बताई आपबीती तो सहम गए परिजन

इसके बाद युवती को धमकाकर भाग निकले। घटना के बाद किशोरी घर पहुंच गई। तब माता-पिता को उसकी हालत देखकर पता चला। तब वे दंग रह गए। वे लड़की को थाने ले गए और मामला दर्ज किया। इसके बाद एसीपी नेमीचंद खारिया, मालपुरा गेट थाना प्रभारी रायसल सिंह , उपनिरीक्षक अनिल शर्मा के नेतृत्व में गठित टीम ने बच्ची का बयान लेकर दोनों आरोपितों को नामजद किया. इसके बाद पहले राजकुमार पकड़ा गया। पूछताछ के दौरान आशु कुमार सिंहल का पता चला। फिर उसे भी 10वीं की परीक्षा देने जाते समय रास्ते में पकड़ा।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com