गोविंद सिंह डोटासरा का NIA को पत्र कहा- उदयपुर और जम्मू-कश्मीर मामलों में BJP कनेक्शन

उदयपुर हत्याकांड में शामिल मोहम्मद रियाज अटारी भाजपा के सक्रिय सदस्य थे। वह लगातार भाजपा के कार्यक्रमों में शामिल रहे हैं। उदयपुर से बीजेपी विधायक और वरिष्ठ नेता गुलाब चंद कटारिया के साथ इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं
गोविंद सिंह डोटासरा का NIA  को पत्र कहा- उदयपुर और जम्मू-कश्मीर मामलों में BJP कनेक्शन

कन्हैयालाल टेलर की तालिबानी हत्याकांड में शामिल एक आरोपी की भाजपा नेताओं के साथ तस्वीर को लेकर उदयपुर में राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गए हैं। अब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने एनआईए के डीजी दिनकर गुप्ता को पत्र लिखकर उदयपुर और जम्मू-कश्मीर मामलों में गिरफ्तार आतंकियों के बीजेपी नेताओं के साथ संबंधों की जांच की मांग की है।

डोटासरा ने लिखा है कि दोनों ही मामलों से देशवासियों में बेचैनी है कि क्या बीजेपी सत्ता के लालच में देश विरोधी गतिविधियों का समर्थन कर रही है। इस संदेह को दूर करने के लिए एनआईए को अपनी जांच का दायरा बढ़ाना चाहिए। एनआईए को इन दोनों घटनाओं की जांच करनी चाहिए और इन आतंकवादियों के साथ भाजपा के संबंधों की सच्चाई का पर्दाफाश करना चाहिए।

मोहम्मद रियाज अटारी भाजपा के सक्रिय सदस्य- डोटासरा
डोटासरा ने पत्र में लिखा है कि उदयपुर हत्याकांड में शामिल मोहम्मद रियाज अटारी भाजपा के सक्रिय सदस्य थे। वह लगातार भाजपा के कार्यक्रमों में शामिल रहे हैं। उदयपुर से बीजेपी विधायक और वरिष्ठ नेता गुलाब चंद कटारिया के साथ इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं। देश भर में जिस तरह की राजनीति हो रही है उससे यह संदेह होना स्वाभाविक है कि यह घटना भारतीय जनता पार्टी से जुड़ी हुई है। आतंकी तालिब हुसैन शाह भाजपा के जम्मू माइनॉरिटी फ्रंट के सोशल मीडिया प्रभारी भी थे, जम्मू-कश्मीर के रियासी में 4 जुलाई 2021 को जम्मू पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए दो आतंकवादियों में से एक। अत्याधुनिक राइफलें, विस्फोटक सामग्री इस आतंकी के पास से और अन्य हथियार भी बरामद किए गए हैं।

पूरा राजस्थान उदास था, गम में था तब फाइव स्टार होटलों में जश्न

डोटासरा ने बीजेपी नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि बीजेपी नेताओं को जनता से कोई सरोकार नहीं है। उनके बीच अंधी दौड़ चल रही है जिसमें उन्हें सिर्फ मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनना है, इसलिए उनमें संवेदनशीलता नहीं बची है। यही वजह है कि बीजेपी नेता घटना के 7 दिन बाद और हैदराबाद से मस्ती करके वापस आने के बाद कन्हैया लाल के घर जा रहे हैं।

घटना 28 जून की है। राजस्थान बीजेपी के नेता बताएं कि इस घटना के बाद वे सभी कहां गायब थे। जब पूरा राजस्थान उदास था, गम में था, तब हैदराबाद के फाइव स्टार होटलों में जश्न मनाते हुए उनकी तस्वीरें सामने आ रही थीं। अब वे एक राजनीतिक पर्यटक के रूप में उदयपुर जा रहे हैं और बकवास कर रहे हैं।

गोविंद सिंह डोटासरा का NIA  को पत्र कहा- उदयपुर और जम्मू-कश्मीर मामलों में BJP कनेक्शन
सबसे बड़ा गुंडा कौन? वर्चस्व की लड़ाई में कोटा में हुआ गैंगवार

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com