बेरोजगार युवाओं का हल्ला बोल: वनरक्षक भर्ती पेपर लीक मामले में नए कानून के तहत आरोपियों को सजा दी जाए

50 सवालों के जवाब सोशल मीडिया पर शेयर होने की बात सामने आ रही है, ऐसे में पूरी भर्ती परीक्षा पर ही सवाल खड़े हो गए हैं। 2300 पदों के लिए यह एग्जाम लिया गया था।
उपेन यादव ने भरी हुंकार
उपेन यादव ने भरी हुंकार

वनरक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में एक बार फिर बेरोजगारों ने सरकार और प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोला है। सोमवार को बेरोजगारों ने कर्मचारी चयन बोर्ड दफ्तर का घेराव किया और दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

वही फिलहाल यह पेपर रद्द कर दिया गया, लेकिन 13 नवंबर की तीसरी पारी में भी 100 में से 50 सवालों के जवाब सोशल मीडिया पर शेयर होने की बात सामने आ रही है। ऐसे में पूरी भर्ती परीक्षा पर ही सवाल खड़े हो गए हैं। 2300 पदों के लिए यह एग्जाम लिया गया था।

 इस परीक्षा में 2 लाख 11 हजार 174 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे।
इस परीक्षा में 2 लाख 11 हजार 174 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे।

गौरतलब है की 12 और 13 नवंबर को हुई वनपाल भर्ती परीक्षा-2020 में 12 नवंबर को दूसरी पारी का पेपर रद्द किया गया, इससे 4 लाख 2 हजार 129 अभ्यर्थी प्रभावित हुए हैं। इन्हें दोबारा जनवरी में परीक्षा देनी होगी। हालांकि अभी तारीख तय नहीं हुई है। इस परीक्षा में 2 लाख 11 हजार 174 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे।

अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के सहायक तकनीकी कर्मचारी दीपक शर्मा (30) को 100 में से 62 सवालों के जवाब वॉट्सऐप गंगापुर सिटी के पवन सैनी से मिले। उसने 5 लाख में आंसर शीट का सौदा किया और दो लोगों को 6-6 लाख रुपए में बेचने के मकसद से वॉट्सऐप पर भेज दिया।

Since independence
hindi.sinceindependence.com