राजस्थान पुलिस के हत्थे चढ़ा अन्तर्राजीय गिरोह: लड़कियो की खरीद फरोख्त कर जिनकी शादी नहीं होती थी उन्हें बेच देते थे, 4 आरोपी गिरफ्तार

24 जनवरी से स्वाधार गृह में आश्रित एक लड़की ने काउन्सलिंग के दौरान बताया कि सजय नाम का उसका मुंह बोला भाई जो उनके पडौस में रहता था, करीब 4 महीने पहले काम के लिये उसे दिल्ली से भरतपुर लाया और भगवती लाल एवं छोटु टेलर को बेच दिया।
चारों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेकर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।

चारों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेकर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।

महिला अपराध अनुसंधान प्रकोष्ठ एवं थाना हिरण मगरी पुलिस की टीम ने लड़कियों की खरीद-फरोख्त कर शारीरिक शोषण करने वाले अंतर राज्य गिरोह का खुलासा किया है। वही महिलाओ की खरीद फरोख्त कर उनको वेश्यावृत्ति जैसे कामों में भी धकेल देते थे। साथ ही गिरोह के चार सदस्यों को भी गिरफ्तार किया गया है। चारों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेकर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।

उदयपुर एसपी मनोज कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त भगवती लाल पुत्र भैरू लाल निवासी माल का खेडा थाना साडास जिला चित्तौडगढ, राजकुमार उर्फ राजु पुत्र शंकर लाल निवासी आरके पुरम तितरडी थाना सवीना उदयपुर, विजय उर्फ पप्पु पुत्र किशन लाल निवासी बंजारा बस्ती थाना हिरणमगरी एवं पिन्टु तेली पुत्र उदय लाल निवासी मण्डफिया थाना सांवरियाजी जिला चित्तौडगढ है। जिनसे पूछताछ में सामने आया कि इस अन्तर्राजीय गिरोह के अभियुक्त गरीब व भोली भाली लडकियो को दिल्ली से अपने सम्पर्क वालो से खरीद कर उनका शारीरिक व मानसिक शोषण करने के बाद जिन व्यक्तियों की शादी नही हो रही, उन्हें बेच कर अवैध राशि प्राप्त करते थे।

दिल्ली से भरतपुर लाया और भगवती लाल एवं छोटु टेलर को बेच दिया।

पुलिस उप अधीक्षक महिला अपराध एवं अनुसंधान प्रकोष्ठ उदयपुर चेतना भाटी द्वारा अनुसंधान प्रारम्भ किया गया

एसपी मनोज कुमार ने बताया कि 2 फरवरी को सेवा मन्दिर स्वधार गृह उदयपुर की काउंसलर निशा फिल्ड निवासी थाना प्रताप नगर ने रिपोर्ट दी कि 24 जनवरी से स्वाधार गृह में आश्रित एक लड़की ने काउन्सलिंग के दौरान बताया कि सजय नाम का उसका मुंह बोला भाई जो उनके पडौस में रहता था, करीब 4 महीने पहले काम के लिये उसे दिल्ली से भरतपुर लाया और भगवती लाल एवं छोटु टेलर को बेच दिया।

भगवती लाल एवं छोटु टेलर ने उसे किसी सुनसान जगह में रखा और उसका शारीरिक शोषण किया। उसके बाद उन्होंने उसे पिन्टु नाम के व्यक्ति को बेच दिया। पिन्टु ने उदयपुर निवासी राजकुमार उर्फ राजु नाम के व्यक्ति को बेच दिया। जिसने भी उसका शारीरिक शोषण किया। राजकुमार उर्फ राजु ने बंजारा बस्ती निवासी विजय उर्फ पप्पु को बेच दिया। जिसने करीबन 3 महीने तक उसका शारीरिक शोषण किया। रिपोर्ट पर हिरणमगरी थाने पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस उप अधीक्षक महिला अपराध एवं अनुसंधान प्रकोष्ठ उदयपुर चेतना भाटी द्वारा अनुसंधान प्रारम्भ किया गया।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube


<div class="paragraphs"><p>चारों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेकर अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।</p></div>
Bollywood news : मनोज मुन्तशिर ने दिया कविता चुराने के आरोप पर जवाब
Since independence
hindi.sinceindependence.com