लखीमपुर हिंसा मामला : खीरी पहुंची नई जांच टीम मौके का निरीक्षण करेगी

लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त एसआईटी टीम आज खीरी पहुंची। एसआईटी की टीम में आईपीएस प्रतििंदर सिंह, आईपीएस शिरोडकर, आईपीएस पद्मजा और सेवानिवृत्त जज राकेश जैन शामिल हैं। लखीमपुर खीरी मुख्यालय पहुंचने के बाद टीम मौके के लिए रवाना हो गई |
लखीमपुर हिंसा मामला : खीरी पहुंची नई जांच टीम मौके का निरीक्षण करेगी

लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त एसआईटी टीम आज खीरी पहुंची। एसआईटी की टीम में आईपीएस प्रतििंदर सिंह, आईपीएस शिरोडकर, आईपीएस पद्मजा और सेवानिवृत्त जज राकेश जैन शामिल हैं। लखीमपुर खीरी मुख्यालय पहुंचने के बाद टीम मौके के लिए रवाना हो गई | जहां वह पूरे घटनाक्रम की जांच कर जांच को आगे बढ़ाएंगे।

बीजेपी के मंत्री के बेटे पर लगा था किसानो पर गाड़ी चढाने का आरोप

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में 3 अक्टूबर को हिंसा हुई थी। इसमें 8 लोगों की मौत हो गई थी। जिसमें चार किसान और दो भाजपा कार्यकर्ता, एक पत्रकार और एक ड्राइवर था। जिसके बाद इस मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया था और सुप्रीम कोर्ट ने भी राज्य सरकार से इस मामले की जांच कराने को कहा था. हालांकि, सुप्रीम कोर्ट राज्य सरकार द्वारा गठित एसआईटी की जांच से खुश नहीं था। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने न्यायिक आयोग का गठन किया ।

न्यायिक जाँच आयोग के अध्यक्ष ने संभाला कार्यभार 

लखीमपुर खीरी हिंसा की जांच के लिए गठित न्यायिक आयोग के अध्यक्ष सेवानिवृत्त न्यायाधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्तव ने कार्यभार संभाल लिया है और बुधवार को तिकुनिया स्थल पर पहुंचे जहां 3 अक्टूबर को हिंसा हुई थी। उन्होंने हिंसा की जांच शुरू की।

हरियाणा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज राकेश कुमार जैन करेंगे एसआईटी जाँच की निगरानी

वहीं, सुप्रीम कोर्ट पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज राकेश कुमार जैन एसआईटी जांच की निगरानी करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को पूर्व न्यायाधीश जैन को एसआईटी जांच की निगरानी के लिए नियुक्त किया। इसमें तीन अन्य आईपीएस अधिकारियों को सदस्य बनाया गया है। खास बात यह है कि तीनों अधिकारी यूपी के मूल निवासी नहीं हैं।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com