दिनदहाड़े कोर्ट के अंदर वकील की हत्याः उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में कोर्ट के अंदर वकील को गोली मारी

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में दिनदहाड़े कोर्ट के अंदर एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वह थाना सदर बाजार की तीसरी मंजिल पर स्थित एसीजेएम कार्यालय गए थे। आरोपी ने वकील के सिर में पीछे से गोली मार दी। इसके बाद वह तमंचा मौके पर छोड़कर फरार हो गया। बाद में डीएम और एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि जमीन विवाद को लेकर वकील की हत्या किए जाने की संभावना है. खैर, हर पहलू की जांच की जा रही है।
दिनदहाड़े कोर्ट के अंदर वकील की हत्याः उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में कोर्ट के अंदर वकील को गोली मारी

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में दिनदहाड़े कोर्ट के अंदर एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वह थाना सदर बाजार की तीसरी मंजिल पर स्थित एसीजेएम कार्यालय गए थे। आरोपी ने वकील के सिर में पीछे से गोली मार दी। इसके बाद वह तमंचा मौके पर छोड़कर फरार हो गया। बाद में डीएम और एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि जमीन विवाद को लेकर वकील की हत्या किए जाने की संभावना है. खैर, हर पहलू की जांच की जा रही है।

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में दिनदहाड़े कोर्ट के अंदर एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी

घटना सोमवार सुबह करीब 11:45 बजे की है। वकील भूपेंद्र प्रताप सिंह (60) कोर्ट की तीसरी मंजिल में एसीजेएम कार्यालय की ओर जा रहे थे, तभी किसी ने उन पर पिस्तौल से गोली चला दी। गोली सिर के पिछले हिस्से में लगी। वह मौके पर मर गया। उधर, कोर्ट परिसर में वकील की हत्या को लेकर वकीलों में खासा रोष है. वकील विरोध कर सड़क जाम कर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं.

बड़े भाई पर हत्या का आरोप

वकील भूपेंद्र प्रताप 3 भाइयों में सबसे छोटे थे। बड़े भाई योगेंद्र प्रताप हैं, मध्यम भाई महेंद्र प्रताप हैं। योगेंद्र ने हत्या की शिकायत दी है। इसमें उन्होंने चौक कोतवाली क्षेत्र के एक ही परिवार के तीन लोगों पर आरोप लगाया है. उनका कहना है कि इन लोगों के साथ छोटे भाई भूपेंद्र प्रताप पर संपत्ति को लेकर मुकदमा चल रहा था।

घटना के वक्त कोई मौजूद नहीं था

जिस वक्त घटना हुई उस वक्त ऑफिस में कोई मौजूद नहीं था इसलिए काफी देर तक किसी को कुछ पता नहीं चल सका। बाद में एक लिपिक वहां पहुंचा, भूपेंद्र सिंह जमीन पर पड़े हुए थे और उसके सिर से खून निकल रहा था. सूचना मिलते ही एसपी एस आनंद, डीएम इंदर विक्रम सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस अब कोर्ट के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

आरोपी पिस्टल लेकर कोर्ट में कैसे घुसा?

कोर्ट परिसर में तमंचे के साथ प्रवेश करने पर सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं. पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज से साफ हो जाएगा कि गलती कहां हुई। इससे यह भी पता चल सकेगा कि आरोपी बाहर का है या कोर्ट परिसर से ही। उसे कितने दिन से यहां आना-जाना पड़ा, इसकी भी जांच की जा रही है।

कोर्ट की सुरक्षा पर खड़े हुए सवाल

कोर्ट परिसर में घुसकर बंदूकें लेकर फिर तीसरी मंजिल पर जाकर वकील की हत्या करना सुरक्षा व्यवस्था पर बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है. हालांकि एसपी एस आनंद ने इस संबंध में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। उनका कहना है कि हर एंगल से जांच की जा रही है। संपत्ति विवाद को लेकर शिकायत मिली है। सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। जल्द ही सुराग हाथ लग जाएगा।

फोरेंसिक टीम ने जुटाए सबूत

घटना के बाद फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाया गया। मौके से साक्ष्य जुटाए गए हैं। पिस्टल से फिंगर प्रिंट भी लिए गए हैं। तीसरी मंजिल पर आने-जाने वालों के पैरों के निशान भी मैच होने की बात कही जा रही है। साथ ही पुलिस उनसे पूछताछ भी करेगी।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com