Jaipur: 65 लाख की ठगी मामले में नाइजीरियन की पत्नी गिरफ्तार, मेडिसन केमिकल बिजनेस के लिए करती थी Fraud कॉल

कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार के ट्रेस करने पर पुलिस टीम को साइबर ठग महिला देवी प्रकाश को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली
गिरफ्तार आरोपी महिला देवी प्रकाश पूर्व में कॉल सेंटर पर काम करती थी।
गिरफ्तार आरोपी महिला देवी प्रकाश पूर्व में कॉल सेंटर पर काम करती थी।

जयपुर में मुहाना थानाप्रभारी लखन खटाना को बड़ी सफलता हाथ लगी है। 65 लाख की ठगी मामले का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने नाइजीरियन ठग की पत्नी को किया गिरफ्तार, कोरोना और अन्य बीमारियों की दवा बनाने के केमिकल बिजनेस के लिए करती थी काल।

गौरतलब है की मुहाना थाना पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। और इस मामले में मुहाना थाना पुलिस को कई दिनों से इनपुट की तलाश थी। फ़िलहाल पुलिस आरोपी महिला से पुछताछ कर रही है।

 पिछले 10 साल से जॉर्ज आईकेई नाईजीरियन के कॉन्टैक्ट में थी
पिछले 10 साल से जॉर्ज आईकेई नाईजीरियन के कॉन्टैक्ट में थी

DCP (साउथ) योगेश गोयल ने बताया कि साइबर ठगी में आरोपी महिला देवी प्रकाश अम्बेडकर (35) निवासी मानपाडा पलावा महाराष्ट्र को गिरफ्तार किया है। पिछले करीब 15 दिन से चुनिन्दा पुलिसकर्मियों की टीम लगातार दिल्ली, महाराष्ट्र्र, मुम्बई, पुणे और पालवा में दबिश दे रही थी। कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार के ट्रेस करने पर पुलिस टीम को साइबर ठग महिला देवी प्रकाश को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली। जिसके कब्जे से 5 कीपेड मोबाइल, 4 मल्टीमिडिया मोबाइल, फर्जी आईडी के 3 सिमकार्ड, 1 लेपटॉप, 1 लाख कैश और बैंक अकाउंट में मिले 4 लाख रुपए फ्रीज किए गए है। गिरफ्तार आरोपी महिला देवी प्रकाश पूर्व में कॉल सेंटर पर काम करती थी। पिछले 10 साल से जॉर्ज आईकेई नाईजीरियन के कॉन्टैक्ट में थी। जिससे शादी कर मुम्बई महाराष्ट्र में अलग-अलग जगह किराए के मकान लेकर पहचान छिपाकर साइबर ठगी की वारदात को अंजाम देते।

आरोपी महिला सोशल मीडिया एप से संपर्क करती

साइबर गैंग कोरोना महामारी और अन्य बीमारियों के इलाज में यूज आने वाली मेडिसिन बनाने के काम आने वाले कैमिकल (पिनालिया टरनाटा लिक्विड एक्सट्रेक्शन अर्क) का व्यापार करने का झांसा देकर सोशल मीडिया एप से संपर्क करती। खुद को अमेरिका की फार्मा कंपनी का प्रतिनिधी बताकर फर्जी सिमकार्ड से कॉल कर झांसे में लेते। केमिकल खरीदकर सप्लाई करके अच्छा प्रोफिट कमाने के साथ ही इसे खरीदने वाली कंपनी के बारे में भी जानकारी देकर बातों में लेते। फ़िलहाल पुलिस मामले में अनुसंधान कर रही है

Since independence
hindi.sinceindependence.com