करी पत्ते की आड़ में गांजे की ऑनलाइन सप्लाई, Amazon को भी मिला 67% कमीशन

ऑनलाइन शॉपिंग के लिए मशहूर अंतरराष्ट्रीय ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के जरिए भांग की तस्करी का मामला सामने आया है। करी पत्ते की आड़ में आंध्र प्रदेश से गांजा की तस्करी की गई थी।
करी पत्ते की आड़ में गांजे की ऑनलाइन सप्लाई, Amazon को भी मिला 67% कमीशन

ऑनलाइन शॉपिंग के लिए मशहूर अंतरराष्ट्रीय ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के जरिए भांग की तस्करी का मामला सामने आया है। करी पत्ते की आड़ में आंध्र प्रदेश से गांजा की तस्करी की गई थी। सूचना के आधार पर पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उसके पास से 20 किलो गांजा भी बरामद किया गया है। आरोपितों ने पिछले चार महीने में अमेजन के जरिए एक हजार किलो गांजा ऑनलाइन सप्लाई किया है, जिसकी कीमत करीब 10.10 लाख रुपये है।

भिंड जिले का है मामला

मध्य प्रदेश के भिंड जिले के पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह ने कहा, 'अमेजन द्वारा गांजे की तस्करी के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम से गांजा लाया जा रहा था और 2-2 किलो की खेप बनाकर मध्य प्रदेश से अन्य जगहों पर भेजा जा रहा था। भिंड के छिमका में गोविंद ढाबा से कल्लू नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया है और ढाबे के संचालक पिंटू के नाम से अमेजन की खेप भी आई थी। वहां की पुलिस ने हरिद्वार निवासी मुकेश जायसवाल को हिरासत में ले लिया है।

अमेज़न ने वसूला था 67 % कमीशन

एसपी मनोज सिंह ने बताया कि हर खेप के साथ 67 फीसदी अमेजन ने वसूल किया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में अमेजन से जानकारी मांगी गई है और उनकी संलिप्तता पाए जाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पूछताछ के दौरान कल्लू ने पुलिस को बताया कि उसने पिछले 4 महीने में अमेजन प्लेटफॉर्म के जरिए 1 टन (1,000 किलो) गांजे की तस्करी की थी। आरोपी ने बाबू टैक्स नाम की फर्म बनाकर इसे विशाखापत्तनम में अमेजन के विक्रेता के तौर पर पंजीकृत कराया था।

Since independence
hindi.sinceindependence.com