जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में मारे गए शिक्षकों के परिवार का दर्द: प्रिंसिपल की मां बोलीं- बेटी के बजाय मुझे गोली मार देते, कश्मीर जन्नत नहीं है

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में गुरुवार को आतंकियों ने एक स्कूल में घुसकर दो शिक्षकों को गोली मार दी. मृतकों में दीपक चंद और प्रिंसिपल सतिंदर कौर शामिल हैं। दोनों के परिवारों की हालात इस वक्त ऐसी है, जिसे देखकर किसी का भी दिल भर जाए। सतिंदर कौर की मां रोते हुए एक ही बात कह रही है कि मुझे गोली मार दो, उसे क्यों मारा? मुझ बूढ़ी को गोली मारो।
जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में मारे गए शिक्षकों के परिवार का दर्द: प्रिंसिपल की मां बोलीं- बेटी के बजाय मुझे गोली मार देते, कश्मीर जन्नत नहीं है

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में गुरुवार को आतंकियों ने एक स्कूल में घुसकर दो शिक्षकों को गोली मार दी. मृतकों में दीपक चंद और प्रिंसिपल सतिंदर कौर शामिल हैं। दोनों के परिवारों की हालात इस वक्त ऐसी है, जिसे देखकर किसी का भी दिल भर जाए। सतिंदर कौर की मां रोते हुए एक ही बात कह रही है कि मुझे गोली मार दो, उसे क्यों मारा? मुझ बूढ़ी को गोली मारो।

दोनों के परिवारों की हालात इस वक्त ऐसी है, जिसे देखकर किसी का भी दिल भर जाए

वहीं दीपक चंद के परिजनों ने कहा कि कश्मीर स्वर्ग नहीं, हमारे परिवार के लिए जहन्नुम है. उन्होंने रोते हुए हाथों से इशारा किया और बताया कि उसके कितने बच्चे हैं। अभी तक हमें धमकी भरे फोन आ रहे हैं। हमें पिछले 30 साल से निशाना बनाया जा रहा है।

गवर्नमेंट बॉयज हायर सेकेंडरी स्कूल के एक शिक्षक ने कहा कि हम यहां कमरे में बैठकर चाय पी रहे थे, तभी हमें दूसरी तरफ शोर सुनाई दिया। करीब 11 बजे का समय होगा। कुछ देर बाद गोलियों की आवाज सुनाई दी। यह सुनकर हम डर गए। प्रिंसिपल मैडम और टीचर बाहर कुर्सियों पर बैठे थे। यहां और भी लोग जमा होने लगे, तो हम बाहर निकले। हमने वहां प्राचार्य और एक शिक्षक को गिरे देखा। प्रिंसिपल मैडम हिल रही थीं, लेकिन दूसरे टीचर के शरीर में कोई हलचल नहीं थी। मैं बयान नहीं कर सकता कि ये कितना बड़ा नुकसान है।

मेयर ने कहा- आतंकियों को मिलता है पाकिस्तान का समर्थन

श्रीनगर के मेयर जुनैद मट्‌टू ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि इस घटना को किसने अंजाम दिया है. इन आतंकियों को पाकिस्तान की मदद हासिल है। मैं कहता हूं, सांप को सांप कहो। ये हमारे समाज को बर्बाद करने निकले हैं। ये वही सिख समुदाय है, जिसने यहां उन परिस्थितियों में भी रहना मंजूर किया, जब कोई यहां रहना नहीं चाहता था। अगर हम अपने लोगों के लिए खड़े नहीं होंगे, तो कौन होगा? हमें सड़कों पर उतरना होगा और एक समाज के तौर पर यह संदेश देना होगा कि हम यह नहीं होने देंगे।

मासूमों पर हमले करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा- मनोज सिन्हा

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि इन मासूम लोगों पर आतंकी हमले को अंजाम देने वाले आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. आतंकी और उनके रहबर जम्मू-कश्मीर की शांति, तरक्की और समृद्धि में खलल नहीं डाल पाएंगे।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com