जयपुर में Pit bull Dog ने,9 साल के बच्चे पर किया हमला,घर का गेट खुलते ही बच्चे पर लपका

डॉग के मालिक बालकिशन सहानी अपनी कार को अंदर पार्क कर रहे थे। जैसे ही पार्क करने के लिए गेट खोला डॉग बाहर आया और बच्चे पर हमला कर दिया।
जयपुर में Pit bull Dog ने,9 साल के बच्चे पर किया हमला,घर का गेट खुलते ही बच्चे पर लपका
मंजीत सिंह के द्वारा डॉग के मालिक पर 17 तारीख को यह मुकदमा दर्ज़ करवाया गया। मनजीत ने घटना क्रम दर्ज कराते समय पुलिस को बताया कि पिटबुल श्वान के काटने से कॉलोनी में डर का माहौल है।

राजधानी जयपुर में एक बार फिर पिट बुल डॉग के काटने का मामला सामने आया है। मामला रामगंज थाना क्षेत्र का है। पिट बुल डॉग ने पडोसी के 9 साल के बच्चे को काट लिया। बच्चा घर के बाहर कार के पास खड़ा था। डॉग के मालिक बालकिशन सहानी अपनी कार को अंदर पार्क कर रहे थे। जैसे ही पार्क करने के लिए गेट खोला डॉग बाहर आया और बच्चे पर हमला कर दिया।

घटना 14 तारिक की बतायी जा रही है। जिसमे खालसा कॉलोनी हीदा की मोरी रामगंज निवासी मंजीत सिंह के द्वारा डॉग के मालिक पर 17 तारीख को यह मुकदमा दर्ज़ करवाया गया। मनजीत ने घटना क्रम दर्ज कराते समय पुलिस को बताया कि पिटबुल श्वान के काटने से कॉलोनी में डर का माहौल है। पिटबुल नस्ल का श्वान प्रतिबंधित है उसके बाद भी उसे पाल रखा है। कई बार मना करने के बाद वह श्वान को कॉलोनी में खुले आम घुमाते है। जहां यह बच्चों पर हमला करने पर उतारू हो जाता हैं। पीड़िता का कहना है कि पहले भी डॉग ने बच्चों को काट लिया था।

जयपुर में पहली बार पिटबुल के द्वारा काटने का चर्चित केस वैशाली नगर का आया था। जिसमे 12 साल के बच्चे को लहूलुहान कर दिया था।
जयपुर में पहली बार पिटबुल के द्वारा काटने का चर्चित केस वैशाली नगर का आया था। जिसमे 12 साल के बच्चे को लहूलुहान कर दिया था।

जयपुर में पहली बार Pitbull तब चर्चा में आया जब एक बच्चे को नोंच खाया

मामले में रामगंज थाना जाँच अधिकारी रामवतार ने बताया की डॉग के द्वारा हमला करने पर बच्ची के चेहरे पर पंजे के निशान है। डॉग के द्वारा अत्यधिक काटने या गंभीर स्थिति जैसा नहीं है। फ़िलहाल पुलिस मामले में अनुसंधान कर रही है।

जयपुर में पहली बार पिटबुल के द्वारा काटने का चर्चित केस वैशाली नगर का आया था। जिसमे 12 साल के बच्चे को लहूलुहान कर दिया था।

बच्चा घर में ही बहन के साथ था। जंजीर तोड़ कर पिटबुल डॉग ने कमरे में जाकर हमला किया था। बच्चा 20 दिन से अधिक अस्पताल में भर्ती रहा था। उसके चेहरे की सर्जरी की गई थी। पिटबुल डॉग को भी नगर निगम ने 5 दिनों तक निगरानी में रखा था।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com