सिद्धू मूसेवाला मर्डर: फैन बनकर रेकी फिर हत्या, मूसेवाला के साथ सेल्फी ली और शार्प शूटरों को दी खबर

शुरुआती जांच में पता चला कि केकड़ा अपने साथी के साथ मूसेवाला का फैन बनकर मूसा गांव पहुंचा। वह वहां करीब 45 मिनट तक रहे। उन्होंने चाय पी और फिर मूसेवाला के साथ सेल्फी ली इस बहाने देखा कि सिक्योरिटी गार्ड मुसेवाला के साथ जा रहे है या नहीं?
सिद्धू मूसेवाला मर्डर: फैन बनकर रेकी फिर हत्या, मूसेवाला के साथ सेल्फी ली और शार्प शूटरों को दी खबर

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला का एक और वीडियो सामने आया है जिसमें ये पता चला है कि हत्या से पहले फैन बनकर रेकी की थी। इस मामले में पंजाब पुलिस ने केकड़ा को हरियाणा के सिरसा के कालांवाली कस्बे से गिरफ्तार किया है। वह मूसेवाला के घर से निकलते हुए सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गया। पुलिस को शक है कि इसी ने हत्यारों को मुखबिर बनाया। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है।

रेकी कर किया शूटरों को अलर्ट
शुरुआती जांच में पता चला कि केकड़ा अपने साथी के साथ मूसेवाला का फैन बनकर मूसा गांव पहुंचा। वह वहां करीब 45 मिनट तक रहे। उन्होंने चाय पी और फिर मूसेवाला के साथ सेल्फी ली। इस बहाने देखा कि सिक्योरिटी गार्ड मुसेवाला के साथ जा रहे है या नहीं? फिर जैसे ही मुसेवाला बिना सुरक्षा के थार जीप में सवार हुए, उन्होंने शार्प शूटरों को अलर्ट किया

दरियादिली बनी हत्या का कारण

सिद्धू मूसेवाला अपने गांव में फैन्स से खुलकर मिलते थे। वह किसी को भी हवेली में प्रवेश नहीं करने देते थे, लेकिन बाहर एक पेड़ के नीचे सभी से मिलते थे। मूसेवाला के घर कोई प्रशंसक आता तो चाय जरूर पिलाई जाती थी। इसके बाद मूसेवाला बाहर आकर उनके साथ फोटो खिंचवाते थे। मुसेवाला की यही दरियादिली उनकी हत्या का मुख्य कारण बनी।

सीसीटीवी फुटेज में दिखा केकड़ा
मूसेवाला के घर के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज में पुलिस की गिरफ्त में आए बदमाश केकड़ा को देखा गया है। यह फुटेज मूसेवाला की हत्या से 15 मिनट पहले का है। मुसेवाला की हत्या 29 मई रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे की गई थी। यह फुटेज शाम 5.15 बजे का है। इसमें संदिग्ध केकड़ा भी देखा गया। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि उन्होंने किसी को फोन किया या नहीं। पुलिस इसकी जांच कर रही है।

सिंगर के घर के काम करने वाले ने भी जताया शक

मूसेवाला की हत्या के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पंजाबी सिंगर के घर के काम करने वाले ने भी शक जताया था। उसने पुलिस को बताया कि कुछ प्रशंसक मूसेवाला से मिलने आए थे। उनमें से कुछ ने फोन पर कहा था कि मूसेवाला थार जीप में सवार हुआ था। इसके बाद ही पुलिस ने इस सीसीटीवी फुटेज की जांच की, जिसमें केकड़े की हरकत पुलिस को संदिग्ध लगी। इसके बाद उसे उठा लिया गया।

पहले टायर पंचर किए फिर मूसेवाला पर चलाई गोलियां

सटीक रेकी द्वारा सिद्धू मूसेवाला की हत्या कर दी गई। शार्प शूटरों ने सबसे पहले मूसेवाला की थार के टायर पंचर किए। इसके बाद सिर्फ ड्राइविंग सीट पर ही गोलियां चलाई गईं। वह अच्छी तरह जानता था कि मूसेवाला थार चला रहा था। उसके साथ कोई सिक्योरिटी गार्ड नहीं है। इससे मूसेवाला के साथ बैठे उसके दो साथियों गुरविंदर और गुरप्रीत की जान बच गई।

सिद्धू मूसेवाला मर्डर: फैन बनकर रेकी फिर हत्या, मूसेवाला के साथ सेल्फी ली और शार्प शूटरों को दी खबर
सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में बड़ा खुलासा, लॉरेंस गैंग से जुड़े सभी शूटर, राजस्थान से पहुंचे हाईटेक हथियार और बोलेरो, सुभाष बानूड़ा का नाम आया सामने
Since independence
hindi.sinceindependence.com