Terror : अब जिहादियों के निशाने पर केंद्रीय मंत्री, गिरिराज को आया विदेश से कॉल

नूपुर मामले में धमकियों का दौर बढ़ता जा रहा है। आमनागरिकों के बाद अब टेररिस्ट के निशाने पर भाजपा के मंत्री और कई बड़े नेता आ चुके है। pfi से जुड़े विदेशी जेहादी भी अब धमकिया देने लगे है।
विदेश से जिहादियों के निशाने पर गिरिराज सिंह
विदेश से जिहादियों के निशाने पर गिरिराज सिंह

भारत में नूपुर शर्मा के बयान के बाद से देश में धमकियों का सिलसिला जारी है। हर राज्ये और शहर में पुलिस स्टेशन के अंदर एक मामला दर्ज हो रहा है। आम नागरिक को सर तन से जुदा करने की धमकी मिल रही है। तो वही अब प्रदेश के बड़े नेता भी आतंकवाद के निशाने पर आ गए है। बात करे राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा की या केन्द्रीय गृह मंत्री गिरिराज सिंह की दोनों बड़े नेता आतंकवाद के निशाने पर आ गए है। तो दूसरी और भारत की इंटेलिजेंस एजेंसी भी सतर्क है।

गिरिराज सिंह को आए कॉल के बारे में उनके करीबियों का कहना है कि कॉल विदेश से आया था।

दरअसल, बिहार में जिस तरह से टेरर मॉड्यूल (Bihar Terror Module) का खुलासा हुआ है उसको लेकर बड़े स्तर पर जांच हो रही है। एनआईए और आईबी तो देख ही रही है। अब ईडी (ED) भी इस मामले में जांच कर रही है। यानी देश की सबसे बड़ी एजेंसियां इस टेरर मामले में जांच कर रही हैं। इस बीच खबर यह भी है कि बीजेपी (BJP) के कुछ नेता जिहादियों के निशाने पर हैं।

ईडी (ED) भी इस मामले में जांच कर रही है
ईडी (ED) भी इस मामले में जांच कर रही है
बीएसएफ ने एक पाकिस्तानी नागरिक को पकड़ा है जो नूपुर शर्मा की हत्या के इरादे से इंटरनेशनल बॉर्डर पार करने की कोशिश कर रहा था। अभी तक की जांच में सामने आया है कि पाकिस्तानी नागरिक नूपुर शर्मा को मारने के लिए भारत आया था। 24 साल का आरोपी रिजवान अशरफ पाकिस्तानी पंजाब के बहाऊद्दीन जिले का रहने वाला है। बीएसएफ की मुस्तैदी के चलते उसे हिंदूमलकोट सेक्टर में खखां चेक पोस्ट पर भारतीय सीमा में घुसते वक्त पकड़ा गया है।

जिहादियों के निशाने पर बीजेपी कार्यकर्ता

भाजपा कार्यकर्ता को पाकिस्तान के मोबाइल नंबर से फोन कर तीन दिन से धमकी दी जा रही है। फोन करने वाला व्यक्ति कार्यकर्ता के अलावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व भाजपा की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा को जान से मारने की धमकी दे रहा है। उसने वाट्सएप नंबर पर कई आपत्तिजनक वीडियो भी भेजा है। चिंतित भाजपा कार्यकर्ता ने सदर कोतवाली पुलिस को तहरीर दी है। साइबर सेल ने जांच शुरू कर दी है।

सदर कोतवाली क्षेत्र के गोबराई खास गांव के रहने वाले बालखिला कन्नौजिया तीन साल पहले दिल्ली में निजी कंपनी में नौकरी करते थे। कोरोना संक्रमण शुरू होने पर गांव आ गए। वह जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ चुके हैं और भाजपा के कार्यकर्ता हैं। उनके मोबाइल नंबर 9667197803 पर सात जुलाई को पहली बार पाकिस्तान के मोबाइल नंबर 923303048842 से फोन आया। उसके बाद फोन का सिलसिला जारी है। बालखिला ने बताया कि फोन करने वाला व्यक्ति टूटी-फूटी हिंदी के अलावा उर्दू में बोलता है। वह भारत के विरुद्ध आपत्तिजनक बातें करता है। सदर कोतवाली पुलिस को उन्होंने तहरीर दी है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com