राजस्थान में कांग्रेस राज,टेररिस्ट 'लाइलाज' 2 दिन में 3 व्यापारी को मिली जान से मारने की धमकी

राजस्थान सरकार की जाँच एजेंसी भी सवालो के कटघरे में खड़ी है आतंकियों के किसी सक्रिय नेटवर्क को खंगालने में कोई सफलता हासिल नहीं हुई है।
धमकी के बाद व्यापारी को मिली पुलिस सुरक्षा
धमकी के बाद व्यापारी को मिली पुलिस सुरक्षा

उदयपुर में कन्हैया लाल हत्याकांड मामले के बाद प्रदेश में इसी से जुड़े अलग -अलग मामले सामने आ रहे है। लेकिन अपराधियों में किसी तरह का डर नहीं है वही राजस्थान सरकार की जाँच एजेंसी भी सवालो के कटघरे में खड़ी है तो सरकार भी धमकी भरे मामलो पर एक्शन लेने में पस्त नजर आ रही है। एक के बाद के थानों में मामले दर्ज हो रहे है।

राजधानी जयपुर की बात करे या भीलवाड़ा,अजमेर की लोगो को सर तन से जुदा करने की धमकी मिलने लगी है। ऐसा ही एक मामला कुछ दिन पहले जयपुर के अशोक नगर थाने में आया था। जिसमे एक युवक को पंचर बनाने वाले मुस्लिम युवक के द्वारा धमकी दी गयी। दरअसल मामला यह था की वह युवक अपनी बाइक में हवा डलवाने उसकी दुकान पर गया था। हवा भरवाने के बाद उस युवक से हवा के 40रूपए मांगे गए लेकिन हवा भरवाने वाले युवक ने 10रूपए लगने का हवाला दिया। इसी बात को लेकर दोनों में बहस हो गयी और पंचर बनाने वाले युवक ने उदयपुर हत्याकांड जैसा हसर करने की धमकी दे डाली। युवक घबरा कर अशोक नगर थाने पंहुचा और पंचर वाले के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

राजस्थान में उदयपुर हत्याकांड के बाद अब लोगो को लगातार धमकिया मिल रही है। वही शासन प्रशासन आंखे मूँद के बैठा है राजस्थान के अलग - अलग जिलों के थानों में अब मामले दर्ज होने लगे है। लेकिन अपराधियों के हौसले बुलंद है राज्य की जांच एजेंसी एटीएस ने पिछले 3 सालों में अवैध डीजल, परीक्षा में नकल और कालाबाजारी जैसे मामलों में कार्रवाई की है। वहीं आतंकियों के किसी सक्रिय नेटवर्क को खंगालने में कोई सफलता हासिल नहीं हुई है।

वही उदयपुर की एक और घटना की बात करे तो शहर में रविवार को दो बाइक सवार युवक एक व्यापारी को जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। इससे पहले भी शनिवार को व्यवसायियों को जान से मारने की धमकी मिली थी। व्यापारी को धमकी राह चलते दी गई जिसके बाद पीड़ित ने घंटाघर थाने में मुकदमा दर्ज कराया (traders are getting death threats) है। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी फुटेजों को खंगालने में जुटी हुई है।आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। वहीं, सेल्समैन के घर पर पुलिस का जवान लगा दिया गया है।

शनिवार को भी दो व्यापारियों को मिली थी धमकी

शनिवार को धानमंडी थाना क्षेत्र में दो व्यापारियों को विदेशी नंबर से जान से मारने की धमकी व्हाट्सएप मैसेज के (traders are getting death threats) माध्यम से दी गई थी। धमकी मिलने के बाद शनिवार को कपड़ा व्यवसाई और हेयर कटिंग करने वाले व्यापारी ने घंटाघर थाने में मामला दर्ज करवाया था। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से अभी तक पुलिस आरोपी तक नहीं पहुंच पाई है।

व्यक्ति की रेकी करने वाले दो लोग गिरफ्तार

उदयपुर के सेक्टर 11 निवासी एक व्यक्ति को जान से मारने की धमकी मिली थी. व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर पर नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट शेयर की थी. इस मामले में पहले भी पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था. अब रविवार को पुलिस ने रेकी करने और सेक्टर 11 निवासी व्यक्ति को धमकाने के मामले में 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. कन्हैया लाल हत्याकांड के पहले सेक्टर 11 निवासी को व्यक्ति को धमकी मिली थी. फिलहाल, पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com