उदयपुर कन्हैया लाल हत्याकांड : NIA को तलाश उन 40 लोगो की जो भारत में सर कलम करने वाले थे

एसआईटी सूत्रों के अनुसार यह सभी 40 लोग राजस्थान के 6 अलग-अलग जिलों से संबंध रखते हैं, जो कि पिछले 1 वर्ष से दावत-ए-इस्लामी संगठन से जुड़े हुए हैं।
एनआईए और एसआईटी ने 40 लोगों को आईडेंटिफाई करने का काम करना शुरू कर दिया है
एनआईए और एसआईटी ने 40 लोगों को आईडेंटिफाई करने का काम करना शुरू कर दिया है

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल हत्या काण्ड की इन्वेस्टीगेशन तेजी से चल रही है। nia की जाँच में एक के बाद एक खुलासे हो रहे है। नूपुर शर्मा के समर्थन करने वाले हर व्यक्ति को टारगेट पे रखा गया था। पूरा जाल बिछा चुके थे बस अपने मकसद को एक के बाद एक करके अंजाम तक पहुँचाना बाकि था।

राजस्थान में 40 अन्य लोगों को भी नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले लोगों का सिर कलम करने का टारगेट दिया गया था। एनआईए और राजस्थान पुलिस की एसआईटी की ओर से की गई जांच और आरोपियों के मोबाइल की कॉल डिटेल व व्हाट्सएप ग्रुप के अनुसंधान में यह तथ्य सामने आए हैं।

 40 लोगों को पाकिस्तान से ही टारगेट दिया गया था
40 लोगों को पाकिस्तान से ही टारगेट दिया गया था

40 लोगों को पाकिस्तान से ही टारगेट दिया गया था

मोबाइल नंबर के आधार पर एनआईए और एसआईटी ने 40 लोगों को आईडेंटिफाई करने का काम करना शुरू कर दिया है और उनकी धरपकड़ के लिए दबिश भी दी जा रही है। एसआईटी सूत्रों के अनुसार यह सभी 40 लोग राजस्थान के 6 अलग-अलग जिलों से संबंध रखते हैं, जो कि पिछले 1 वर्ष से दावत-ए-इस्लामी संगठन से जुड़े हुए हैं। इन्हें व्हाट्सएप और सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफार्म के माध्यम से पाकिस्तान से ट्रेनिंग व इंस्ट्रक्शन दिए जा रहे थे।

इन सभी 40 लोगों को पाकिस्तान से ही टारगेट दिया गया था कि वह अपने-अपने जिलों में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वाले लोगों का सिर कलम करें और उसका वीडियो बनाकर वायरल करें। फिलहाल, इन सभी 40 लोगों का पता लगाने में एनआईए और एसआईटी जुट गई है. इन लोगों को आईडेंटिफाई करने के बाद ही प्रकरण में आगे बड़े खुलासे हो सकेंगे।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com