पुण्यतिथि : बॉलीवुड देता था इनकी दोस्ती की मिसालें, एक ही दिन, एक ही बीमारी से हुआ निधन

बॉलीवुड के दो जिगरी दोस्त विनोद खन्ना ( VINOD KHANNA ) और फ़ीरोज़ खान ( FIROZ KHAN ) की आज पुण्यतिथि है। दोनों ने एक ही तारीख को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था।
पुण्यतिथि : बॉलीवुड देता था इनकी दोस्ती की मिसालें, एक ही दिन, एक ही बीमारी से हुआ निधन

बॉलीवुड के दो जिगरी दोस्त विनोद खन्ना और फ़ीरोज़ खान की आज पुण्यतिथि है। दोनों ने एक ही तारीख को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। इन दोनों की दोस्ती का इत्तेफ़ाक़ भी ये था कि दोनों की ही मृत्यु कैंसर के कारण हुई थी।

फ़िरोज़ खान का लंग कैंसर के कारण 2009 में निधन हुआ था। वहीं कुछ साल बाद, 2017 में विनोद खन्ना ने भी ब्लड कैंसर से जंग हारकर इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। आज वह दोनों इस दुनिया में नहीं है लेकिन आज भी लोग इन दोनों की दोस्ती की मिसाल दिया करते हैं। आज उनके पुण्यतिथि पर जानिये उनकी दोस्ती और जीवन से जुड़ी कुछ बातें –

दोनों की जोड़ी बड़े परदे पर थी मशहूर

एक समय था जब हिंदी सिनेमा में फ़िरोज़ खान और विनोद खन्ना की जोड़ी एक साथ पर्दे पर आने का मतलब होता था कि फिल्म का हिट होना तय है। पहली बार दोनों का आमना-सामना 1976 में आई ''शंकर शम्भु' नामक फिल्म में हुआ था। इसके बाद से ही इनकी दोस्ती की शुरुआत हुई। जैसे-जैसे समय बीतता गया, दोनों की दोस्ती गहरी होती गई।

इसके बाद 1980 में 'कुर्बानी' फिल्म में दोनों फिर साथ में नज़र आए। इस फिल्म का डायरेक्शन फ़िरोज़ खान ने ही किया था। इसके बाद फ़िरोज़ खान ने विनोद खन्ना के साथ एक बार फिर 'दयावान' फिल्म में काम किया। ये फिल्म उस साल की सुपरहिट फिल्म रहीं। दोनों ही अभिनेताओं ने सच्ची दोस्ती की मिसाल को ऑन स्क्रीन के साथ-साथ ऑफ स्क्रीन में भी कायम रखा।

बॉलीवुड के पहले काउब्वॉय थे फ़ीरोज़ खान

फिरोज खान का जन्म 25 सितंबर 1939 में कर्नाटक के मैसूर में हुआ था। वे अपने स्टाइलिश अंदाज़ के लिए काफी मशहूर थे। उन्होंने अपने फिल्मी करियर में चॉकलेटी हीरो से लेकर खूंखार खलनायक तक के सभी किरदार बखूबी निभाए थे।

उन्हें बॉलीवुड का पहला काउब्वॉय भी कहा जाता था। उन्होंने अपने करियर में कुल 60 फिल्मों में काम किया। फ़ीरोज़ खान एक्टर होने के साथ-साथ फिल्म एडिटर, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी रहे। अपने जिगरी दोस्त विनोद खन्ना के साथ उनकी जोड़ी बड़े परदे पर बहुत फेमस हुई।

विनोद खन्ना ने लिया था संन्यास

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता विनोद खन्ना का जन्म 6 अक्टूबर 1946 को पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था। उन्हें उनके फ़िल्मी करियर के साथ-साथ राजनीति में दिए गए योगदान के लिए भी जाना जाता है। इन्हे दो बार फिल्मफेयर अवार्ड से नवाज़ा गया था। विनोद खन्ना ने बॉलीवुड को कई बेहतरीन फिल्में दी।

कुछ साल बाद उन्होंने संन्यास ले लिया था। अपने संन्यास के 5 साल बिताने के बाद उन्होंने फ़िल्मी दुनिया में फिर से रुख किया, जिसमे उनका साथ उनके जिगरी दोस्त फ़िरोज़ खान ने दिया। फ़िरोज़ खान ने उन्हें अपनी अगली फिल्म 'दयावान' में लीड रोल दिया। इस फिल्म से विनोद खन्ना को बहुत अच्छा कमबैक मिला। 2009 में फ़िरोज़ खान की मृत्यु के बाद उन्होंने 4 फिल्मों में काम किया। लेकिन 27 अप्रैल, 2017 में ब्लड कैंसर के कारण उनकी भी मृत्यु हो गई।

सुनिधि शुक्ला की रिपोर्ट

पुण्यतिथि : बॉलीवुड देता था इनकी दोस्ती की मिसालें, एक ही दिन, एक ही बीमारी से हुआ निधन
GT vs SRH: क्या आज हैदरबाद के कमबैक को रोक पाएगी गुजरात?

Related Stories

No stories found.