संयुक्त राष्ट्र में पहली बार इजरायल को मिला भारत का समर्थन, नेतन्याहू बोले धन्यवाद भारत

एक ट्विट के जरिये मोदी और भारत को इजरायल ने कहा धन्यवाद
संयुक्त राष्ट्र में पहली बार इजरायल को मिला भारत का समर्थन, नेतन्याहू बोले धन्यवाद भारत

न्युयार्क – भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ में इजरायल के उस प्रस्ताव का समर्थन किया जिसमें इजरायल ने फिलिस्तीन के गैर सरकारी संगठन शहीद को सलाहकार का दर्जा दिए जाने पर आपत्ति जताई थी।

संयुक्त राष्ट्र में ऐसा पहली बार हुआ है जब भारत ने इजरायल के किसी प्रस्ताव का समर्थन किया। भारत ने इजरायल के पक्ष में मतदान किया।

यूएन के आर्थिक और सामाजिक परिषद में छह जून को मसौदा प्रस्ताव ''एल.15" पेश किया था, इस प्रस्ताव के पक्ष में 28 मत पड़े, जबकि चीन, पाकिस्तान और अरब देशों सहित 15 देशों ने इसके विरोध में मतदान किया। जबकि 5 देशों ने इस प्रस्ताव पर भाग नहीं लिया,

प्रस्ताव के समर्थन में मतदान करने वाले देशों में भारत, अमेरिका, बिट्रेन, जापान, फ्रांस, जर्मनी, कनाडा, और ब्राजील शामिल है।

यूएन में इजरायल के प्रस्ताव का समर्थन करने के लिए प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद किया। एक ट्वीट में उन्होनें लिखा कि यूएन में इजरायल का समर्थन करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और भारत का धन्यवाद,

इज़राइल ने सयुक्त राष्ट्र में दिये इस प्रस्ताव में बताया कि जिस संगठन को सलाहाकार का दर्जा दिया जा रहा है उसने हमास के साथ अपने संबंधों का खुलासा नहीं किया है।

नेतन्याहू ने 6 जून को यूएन में वोटिंग होने के बाद बुधवार को एक ट्वीट कर मोदी को धन्यवाद दिया।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com