केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज आएंगे उत्तराखंड, आपदा से हुए नुकसान का लेंगे जायजा

गृह मंत्री अमित शाह आज शाम उत्तराखंड जाएंगे। राहत बचाव कार्य की समीक्षा बैठक होगी। एनडीआरएफ के साथ सभी एजेंसियों के अधिकारी मौजूद होंगे।
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज आएंगे उत्तराखंड, आपदा से हुए नुकसान का लेंगे जायजा
Image Credit: Mirror Uttarakhand

गृह मंत्री अमित शाह आज शाम उत्तराखंड जाएंगे। राहत बचाव कार्य की समीक्षा बैठक होगी। एनडीआरएफ के साथ सभी एजेंसियों के अधिकारी मौजूद होंगे। साथ ही मौजूदा हालात पर नजर रखी जाएगी, केंद्र ने राज्य सरकार को हर संभव मदद देने का भी वादा किया है। वहां वह देर शाम सीएम, उत्तराखंड के अधिकारियों, आईटीबीपी, एनडीआरएफ के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। कल राज्य के बाढ़ संभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे और बारिश और भूस्खलन से हुए नुकसान का जायजा लेंगे।

आपदा की बारिश में अब तक 42 लोगों की मौत

उत्तराखंड में विपदा की बारिश से कुमाऊं संभाग में तबाही मची हुई है। इस आपदा में अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें सबसे ज्यादा 29 लोग नैनीताल जिले के हैं। बारिश के कारण काली, गोरी, सरयू, गोमती, शारदा, कोसी और गौला नदियां उफान पर हैं। कुमाऊं में छह हाईवे समेत 92 स्टेट हाईवे बंद हैं। राहत और बचाव कार्य जारी है। मुख्यमंत्री धामी ने बारिश प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया और प्रभावित लोगों से बातचीत कर नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने पिछले दो दिनों में राज्य में बारिश से संबंधित घटनाओं में मारे गए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का मुआवजा देने की भी घोषणा की।

पीएम मोदी ने फोन पर लिया जायजा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी धामी से फोन पर बात की और स्थिति का जायजा लिया और हर संभव मदद का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ कुमाऊं क्षेत्र के बारिश प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि नैनीताल के काठगोदाम और लालकुआं और उधम सिंह नगर के रुद्रपुर में सड़कें, पुल और रेल की पटरियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं। कुमार ने कहा कि क्षतिग्रस्त पटरियों की मरम्मत में कम से कम चार-पांच दिन लगेंगे।

Image Credit: Hindustan
Image Credit: Hindustan

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लोगों से की हिम्मत रखने की अपील

रामनगर में सेना के हेलीकॉप्टर की मदद से दो दर्जन से अधिक ग्रामीणों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। पंतनगर में तीन जगहों पर फंसे 25 लोगों को निकालने के लिए वायुसेना को ध्रुव हेलीकॉप्टर की मदद लेनी पड़ी। कई भूस्खलन के कारण नैनीताल की ओर जाने वाली सड़कों पर मलबा आने से पर्यटन स्थल राज्य के बाकी हिस्सों से कट गया है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लोगों से नहीं घबराने की अपील की और कहा कि उन्हें सुरक्षित निकाल लिया जाए। इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। साथ ही चार धाम यात्रियों से फिर से अपील करते हैं कि मौसम सुधरने तक वे जहां हैं वहीं रहें।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com