PM की विदेश यात्रा: जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंने इटली पहुंचे पीएम मोदी, स्कॉटलैंड भी जाएंगे

प्रधानमंत्री मोदी चार दिवसीय विदेश दौरे पर गए हैं। शुक्रवार की सुबह वह इटली की राजधानी रोम पहुंचे। वह 29 से 31 अक्टूबर की दोपहर तक इटली में रहेंगे। यहां वह जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री ब्रिटेन ग्लासगो (स्कॉटलैंड) पहुंचेंगे। यहां वह COP26 क्लाइमेट चेंज समिट में हिस्सा लेंगे।
PM की विदेश यात्रा: जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंने इटली पहुंचे पीएम मोदी, स्कॉटलैंड भी जाएंगे
Photoj | ANI

डेस्क न्यूज़– प्रधानमंत्री मोदी चार दिवसीय विदेश दौरे पर गए हैं। शुक्रवार की सुबह वह इटली की राजधानी रोम पहुंचे। वह 29 से 31 अक्टूबर की दोपहर तक इटली में रहेंगे। यहां वह जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री ब्रिटेन ग्लासगो (स्कॉटलैंड) पहुंचेंगे। यहां वह COP26 क्लाइमेट चेंज समिट में हिस्सा लेंगे। समाचार एजेंसी के मुताबिक, इटली दौरे के दौरान प्रधानमंत्री पोप फ्रांसिस से मिलने वेटिकन सिटी भी जा सकते हैं।

Photo | ANI
Photo | ANI

इटली में G20 की आठवीं बैठक

जी20 की यह बैठक दरअसल पिछले साल यानी 2020 में होनी थी, लेकिन कोरोना के चलते इसे टालना पड़ा। अब यह रोम, इटली में होगा। प्रधानमंत्री 31 अक्टूबर की दोपहर तक रोम में रहेंगे। इसके बाद ग्लासगो के लिए रवाना होंगे। G20 को 'विश्व आर्थिक इंजन' भी कहा जाता है। यह इस समूह की आठवीं बैठक होगी। इस वर्ष की थीम है लोग, ग्रह, समृद्धि। चार मुख्य मुद्दों पर विचार किया जाएगा। इनमें महामारी से उबरना और जलवायु परिवर्तन प्रमुख मुद्दे होंगे। माना जा रहा है कि मोदी इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी से भी मुलाकात कर सकते हैं।

पोप से कर सकते है मलाकात

समाचार एजेंसी के मुताबिक, इटली की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री कैथोलिक ईसाइयों के सबसे बड़े मौलवी पोप फ्रांसिस से भी मुलाकात कर सकते हैं। हालांकि यह मुलाकात उनके कार्यक्रम का हिस्सा नहीं है और न ही विदेश मंत्रालय ने औपचारिक रूप से इस बारे में कोई जानकारी दी है। प्रधानमंत्री इस बैठक के लिए वेटिकन सिटी जा सकते हैं, जो रोम के मध्य में है और जिसे एक अलग देश का दर्जा प्राप्त है।

यूके में जलवायु परिवर्तन पर 26वां शिखर सम्मेलन

प्रधानमंत्री 31 अक्टूबर को इटली से ब्रिटेन पहुंचेंगे। यहां वह स्कॉटलैंड के ग्लासगो में होने वाले COP26 क्लाइमेट चेंज समिट में हिस्सा लेंगे। यह जलवायु परिवर्तन पर 26वां शिखर सम्मेलन होगा। यह इटली और ब्रिटेन द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया जाता है। इस सम्मेलन में 120 देशों के राष्ट्राध्यक्ष भाग लेंगे। माना जा रहा है कि मोदी इस समिट से इतर ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों से अलग-अलग मुलाकात कर सकते हैं। इस साल प्रधानमंत्री की यह तीसरी विदेश यात्रा है। मार्च में वह बांग्लादेश गए थे। इसके बाद UNGA के वार्षिक सत्र में भाग लिया। अब वे इटली और ब्रिटेन जा रहे हैं।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com