World Blood Donor Day: 'बॉम्बे ब्लड ग्रुप' है सबसे रेयर ब्लड, जानें क्या है खासियत

World Blood Donor Day: रक्तदान की महत्वता को देखते हुए हर साल 14 जून को World Blood Donor Day (विश्व रक्तदान दिवस) मनाया जाता है।
World Blood Donor Day: 'बॉम्बे ब्लड ग्रुप' है सबसे रेयर ब्लड, जानें क्या है खासियत

डेस्क से यशस्वनी की रिपोर्ट-

World Blood Donor Day: रक्त वह तरल पदार्थ है जो हमारे पूरे शरीर में विभिन्न कार्यों का संचालन करता है। कई बार ऐसा समय आता हैं जब व्यक्ति अत्यधिक रक्त खो देता है और उसे किसी बाहरी स्रोत से रक्त की आवश्यकता होती है। ऐसे में रक्तदान अहम भूमिका निभाता है।

बीमार लोगों की मदद करने के लिए आप जो सबसे नेक काम कर सकते हैं, वह है। रक्तदान वह प्रक्रिया है जिसमें एक व्यक्ति से रक्त लेकर दूसरे व्यक्ति को रक्त चढ़ाया जाता है।

रक्तदान की महत्वता को देखते हुए हर साल 14 जून को World Blood Donor Day (विश्व रक्तदान दिवस) मनाया जाता है।

क्या है World Blood Donor Day 2022 Theme

हर साल यह दिवस एक खास थीम के साथ मनाया जाता है। इस साल इसकी थीम "रक्तदान करना एकजुटता का कार्य है। प्रयास में शामिल हों और जीवन बचाएं ” है। World Blood Donor Day के मौके पर आइए जानते है इस दिवस से जुड़ी खास बातें...

रक्तदान क्यों महत्वपूर्ण है?

रक्तदान करने का मुख्य उद्देश्य किसी की जान बचाना है इसलिए आपको रक्तदान करने के लिए कभी भी दो बार नहीं सोचना चाहिए। यह मानवता की निशानी है। यह रक्तदाता की जाति, पंथ और धर्म को नहीं देखता है।

इसके अलावा, हमारे शरीर के अंग अलग-अलग कार्य करते हैं और इन अंगों को ठीक से काम करने के लिए ऊर्जा और ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है। ऑक्सीजन और ऊर्जा हमारे शरीर में घूमने वाले रक्त से प्राप्त होती है। इसलिए जब कोई अंग एक विशिष्ट कार्य करने में विफल रहता है तो बाहरी स्रोत से रक्त की आवश्यकता होती है। ऐसे में किसी अन्य व्यक्ति को रक्तदान करना होता है।

रक्त समूह मुख्य रूप से चार प्रकार के रक्त समूह होते हैं: A, B, AB, और O। O- रक्त समूह सार्वभौमिक दाता है और AB + है सार्वभौमिक प्राप्तकर्ता।

रेयर ब्लड है "बॉम्बे ब्लड ग्रुप "

यह ब्लड काफी रेयर होता है 1952 में भारत में बॉम्बे (मुंबई) में पहली बार इसकी खोज हुई, इस कारण ही इस रक्त समूह का नाम बॉम्बे ब्लड ग्रुप के रखा गया है। बॉम्बे फेनोटाइप वाले लोग ज्यादातर दक्षिण पूर्व एशिया तक ही सीमित हैं।

यह एक रेयर ब्लड ग्रुप है। भारत की बात करें तो यह ब्लड ग्रुप 10,000 में से मात्र 1 व्यक्ति में पाया जाता है। इस ग्रुप की खास बात यह है कि इस ब्लड ग्रुप वाले लोग A, B और O ग्रुप वालों को रक्त दे सकता है पर किसी से रक्त ले नहीं सकता।

जानें रक्तदान के फायदे

रक्तदान करने के कई फायदे हैं। सबसे महत्वपूर्ण लाभ तो यह है कि आप एक जीवन बचा रहे हैं, तो यह आपकों गर्व की अनुभूति देता है। इसके साथ ही यह कैलोरी बर्न में भी सहायक है। रक्तदान करने से डायबीटिज में भी फायदा होता है। इससे हमारे शरीर में रक्त फिल्टर होता है और नया रक्त बनता है। डॉक्टर हर 3 महीनें में रक्तदान करने की सलाह देते है। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि यह हार्ट अटैक और स्टोक को रोकने में मददगार है।

World Blood Donor Day: 'बॉम्बे ब्लड ग्रुप' है सबसे रेयर ब्लड, जानें क्या है खासियत
डायबिटीज और गठिया रोगियों के लिए वरदान है जामुन, जानें इसके औषधीय गुण

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com