हे भगवान! मॉनिटर छिपकली का भी गैंगरेप तो महिलाएं कैसे रहेंगी सुरक्षित? 4 गिरफ्तार

Bengal Monitor Lizard Raped : जब समाज कंटक किसी जानवर से भी रेप से करने से गुरेज न करें तो महिला सुरक्षा की तो आप बात ही छोड़ दिजिए... ऐसा ही मामला महाराष्ट्र के गोठाणे गांव के पास सह्याद्री टाइगर रिजर्व में आया। इस चौंकाने वाले मामले में आया कि यहां बंगाल की मॉनिटर छिपकली से कथित तौर पर 4 लोगों ने (Bengal Monitor Lizard Raped) गैंगरेप कर डाला।
हे भगवान! मॉनिटर छिपकली का भी गैंगरेप तो महिलाएं कैसे रहेंगी सुरक्षित? 4 गिरफ्तार

(Sahyadri Tiger Reserve) अब तक महिला, युवती, बच्चों से दुष्कर्म के मामले में देशभर से खबरें सुनने में आती हैं, लेकिन जब समाज कंटक किसी जानवर से भी रेप से करने से गुरेज न करें तो महिला सुरक्षा की तो आप बात ही छोड़ दिजिए... ऐसा ही मामला महाराष्ट्र के गोठाणे गांव के पास सह्याद्री टाइगर रिजर्व में आया। इस चौंकाने वाले मामले में आया कि यहां बंगाल की मॉनिटर छिपकली से कथित तौर पर 4 लोगों ने (Bengal Monitor Lizard Raped) गैंगरेप कर डाला।

मामले में दुष्कर्म (maharashtra bengal monitor lizard raped) करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ताजा जानकारी के अनुसार ये चारों आरोपी शिकारी थे और चारों आरोपियों ने गोठाणे गांव के गाभा क्षेत्र में सह्याद्री टाइगर रिजर्व में ये हैवानियत की। चारों ने कोर जोन में घुसकर इस जानवर सरीकी मानसिकता वाले अपराध को अंजाम दिया।

शिकारी आरोपियों से मोबाइल जब्त करने पर हुआ मामले का खुलासा

ये मामला शायद पुलिस की नजर में नहीं आता और जिस तरह कई तरह के मामले धमकी या किसी अन्य कारण एफआईआर के तौर पर सामने नहीं आते उसी तरह ये मामला भी दबकर रह जाता। लेकिन पुलिस ने जब इन्हें पकड़ने के बाद इनके मोबाइल जब्त किए तो इनके मोबाइल में इनका कूकर्म सामने आ गया।

पुलिस ने आरोपियों की पहचान संदीप तुकाराम, पवार मंगेश, जनार्दन कामटेकर और अक्षय सुनील के रूप में की है। दरअसल महाराष्ट्र वन विभाग ने आरोपी के मोबाइल फोन की तफ्तीश की तो हैवानियत का पूरा घटनाक्रम सामने आया। अधिकारियों को आरोपी शिकारियों के मोबाइल से वीडियो रिकॉर्डिंग मिली थी।

जिसमें आरोपी मॉनिटर छिपकली के साथ गैंगरेप करते दिख रहे हैं। बताया जा रहा है कि इन चारों में से ही किसी एक ने इस कूकर्म को मोबाइल से शूट किया था।

CCTV फुटेज आने के बाद चारों शिकारियों को ढूंढकर अधिकारियों ने पकड़ा था

जानकारी के अनुसार सांगली वन अभ्यारण्य में तैनात वन अधिकारियों ने सीसीटीवी फुटेज में आरोपी शिकारियों को वन में घूमते देखा था। सीसीटीवी फुटेज में देखा गया कि चारों आरोपी शिकार के लिए जंगल में घूम रहे हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि तीनों आरोपी कोंकण से कोल्हापुर के चंदोली गांव में शिकार के लिए पहुंचे थे। तभ्ज्ञी ये पूरा घटनाक्रम हुआ। दुष्कर्म का ऐसा हैवानियत से भरा मामला सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर भी यूजर्स इसे बेहद भयावह बता रहे हैं।
हे भगवान! मॉनिटर छिपकली का भी गैंगरेप तो महिलाएं कैसे रहेंगी सुरक्षित? 4 गिरफ्तार
BJP के Common Civil Code का शिवपाल ने क्यों किया समर्थन, क्या सपा को सबक सिखाने की है प्लानिंग?
दूसरी ओर इस गैंगरेप से एक बात ये भी ध्यान देने पर मजबूर करती है कि यदि समाज कंटक यदि एक जानवर के साथ रेप जैसा घिनौना कृत्य कर सकते हैं तो जरा सोचिए उस दौरान कोई अबला नारी इनके समक्ष होती तो ये उसका क्या हाल करते। प्रश्न है कि जो जानवर को अपनी हवस मिटाने के लिए नहीं छोड़ रहा वो किसी महिला का क्या हाल करेगा। बहरहाल ऐसे समाज कंटकों को सोशल मीडिया पर यूजर्स ने सख्त से सख्त सजा देने की मांग की है।

छिपकली से रेप पर वन अधिकारी भी चौंक गए

छिपकली से गैंगरेप के अपराध के बारे में जानने के बाद वन विभाग के अधिकारी भी इस चौंकाने वाले मामले पर यकीन नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन जब वीडियो ही अधिकारियों ने देखा तो उस पर यकीन करना भी जरूरी हो जाता है। अब वन अधिकारी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर पूरे मामले को कोर्ट में ले जाने की तैयारी कर रहे हैं। अधिकारियों के अनुसार आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की तैयारी है।

बंगाल मॉनिटर छिपकली विलुप्त होने के कारण संरक्षित जानवर

बता दें कि बंगाल मॉनिटर छिपकली वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 के अनुसार संरक्षित प्रजाति में आती है, जो विलुप्त होने की हालत में है। यदि इस दुर्लभ और जघन्य अपराध के आरोपियों का कोर्ट में दोष साबित होता है तो सभी शिकारी अपराधियों को 7 साल की कैद होगी। साथ में कोर्ट में इस दलील की भी जरूरत है कि यदि ये लोग जानवर के साथ ऐसा कृत्य कर सकते हैं तो सोचने वाली बात होगी कि इनकी मानसिकता किस तरह की होगी।

Related Stories

No stories found.