West Bengal: बंगाल को 'चुनावी' सौगात, सात नये जिलों की घोषणा, ममता ने संगठन में भी किए बदलाव

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कैबिनेट की बैठक में फैसला लेते हुए सात नए जिले बनाने का ऐलान किया है, जबकि बीजेपी ने इस निर्णय को शिक्षक भर्ती घोटाले मामले से ध्यान भटकाने का प्रायोजन बताया है।
West Bengal: बंगाल को 'चुनावी' सौगात, सात नये जिलों की घोषणा, ममता ने संगठन में भी किए बदलाव

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कैबिनेट की बैठक के बाद पश्चिम बंगाल में सात नए जिले बनाने का ऐलान किया है। साथ ही मीडिया से बातचीत में साफ तौर पर कहा गया कि कोई भी मंत्री ऐसा कोई काम न करें जिससे पूरे मंत्रिमंडल का अपमान हो।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नदिया में राणाघाट, मुर्शिदाबाद से बहरामपुर, नदिया, कादी, उत्तर 24 परगना से बशीरहाट, सुंदरवन, बांकुड़ा से विष्णुपुर जिले को अलग करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले बंगाल में 23 जिले थे, अब इसे बढ़ाकर 30 कर दिया गया है। अब सात नए जिले होंगे- सुंदरवन, इच्छामती, राणाघाट, विष्णुपुर, जंगीपुर, बहरामपुर और बशीरहाट।

सीएम ममता की ध्यान भटकाने की कोशिश

उधर, भाजपा प्रवक्ता अमित मालवीय ने कहा है कि सीएम ममता बनर्जी का सात नए जिलों की घोषणा और कैबिनेट में फेरबदल एसएससी शिक्षक भर्ती घोटाले से लोगों का ध्यान भटकाने का एक प्रयास मात्र है। उन्होंने मांग की है कि सीएम बताएं कि पहले से ही कर्ज में डूबा राज्य नए जिलों के गठन और संचालन का खर्च कहां से उठा पाएगा? परेश अधिकारी अभी भी अपने मंत्रिमंडल में है, केवल नए चेहरों को शामिल करने से घोटाले का दाग नहीं हटेगा।

सीएम और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने भी संगठन में कई बदलाव किए है. इसकी घोषणा की। कई जिलाध्यक्षों के नामों की घोषणा कर दी गई है।

West Bengal: बंगाल को 'चुनावी' सौगात, सात नये जिलों की घोषणा, ममता ने संगठन में भी किए बदलाव
मोदी सरकार की गांवो के लिए नई सौगात, बिना इंटरनेट के मुफ्त में उठा पायेंगे ऑनलाइन मूवी, OTT ऐप्स, गेमिंग और सोशल मीडिया का लुफ्त

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com