सर्वदलीय बैठक: विपक्ष के हर मुद्दो पर सरकार चर्चा को तैयार

इस बार संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई को शुरु होने वाला है, जिसमें सरकार के द्वारा 24 विधेयकों को पेश करने की तैयारी है।
सर्वदलीय बैठक: विपक्ष के हर मुद्दो पर सरकार चर्चा को तैयार

संसद के मानसून सत्र से पहले सरकार की ओर से सर्वदलीय बैठक का आयोजन रविवार को राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में किया गया । केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी के अनुसार बैठक में 45 पार्टियों को बुलाया गया, लेकिन 36 पार्टियों ने ही केवल सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया । विपक्ष के साथ सरकार की 13 मुद्दों पर चर्चा करने पर सहमति बनी है । आगे जानकारी देते हुए केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने बताया कि मंगलवार 19 जुलाई को श्रीलंका संकट पर केंद्र सरकार की तरफ से एक सर्वदलीय बैठक आयोजित की जाएगी । जिसकी अध्यक्षता केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और एस जयशंकर करेंगे. बीजेपी, कांग्रेस, शिवसेना, आम आदमी पार्टी के साथ-साथ टीएमसी के कई नेता बैठक में मौजूद रहे । बैठक का आयोजन दिल्ली में संसद के पुराने भवन में किया गया । बता दें इस बार संसद का मानसून सत्र 18 जुलाई होने वाला है, जिसमें सरकार के द्वारा 24 विधेयको को पेश करने की तैयारी है। इसी के साथ सरकार विपक्ष के मुद्दों पर भी चर्चा करने को तैयार हो गई है।

सर्वदलीय बैठक में नहीं पहुंचे प्रधानमंत्री

सर्वदलीय बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी के नहीं पहुचने के कारण कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने सवाल उठाया और ट्वीट कर पूछा कि क्या यह असंसदीय नहीं है। जयराम रमेश ने अपने ट्वीट में लिखा, 'संसद के आगामी सत्र पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक अभी शुरू हुई है और पीएम हमेशा की तरह अनुपस्थित हैं क्या यह 'असंसदीय' नहीं है?

राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुआ आयोजन

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी, अधीर रंजन चौधरी, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, द्रमुक नेता टीआर बालू,जयराम रमेश, टीएमसी नेता सुदीप बंदोपाध्याय, शिवसेना नेता संजय राउत, राकांपा नेता शरद पवार और प्रफुल पटेल, आप नेता संजय सिंह और कई अन्य विपक्षी नेता मौजूद हैं। इसके साथ ही टीडीपी, एसपी, बीएसपी, सीपीएम, आरएसपी, राजद के नेता भी बैठक में मौजूद हैं।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com