देश में अराजकता फैलाने की साजिश! उत्तर प्रदेश ATS ने धरे 8 संदिग्ध आंतकी

ATS के द्वारा कार्रवाई करते हुए 8 संदिग्ध आंतकियों को गिरफ्तार किया है। ये सभी मिलकर नेटवर्क चला रहे थे। बताया जा रहा है कि उनके संपर्क अल कायदा इंडियंस सब कॉन्टिनेंट, जमात उल मुजाहिदीन बांग्लादेश से हैं।
ATS द्वारा पकड़े गए संदिग्द
ATS द्वारा पकड़े गए संदिग्द

आतंकवाद निरोधी दस्ते यानि एटीएस द्वारा उत्तर प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर आठ संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरु कर दी है। इस कार्रवाई में मध्य प्रदेश, यूपी पुलिस के साथ केंद्रीय एजेंसियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। ये सभी मिलकर नेटवर्क चला रहे थे। बताया जा रहा है कि उनके संपर्क अल कायदा इंडियंस सब कॉन्टिनेंट, जमात उल मुजाहिदीन बांग्लादेश से हैं।

भाजपा नेता कुंवरपाल की दुकान में बम लगाकर भागा

पुलिस सूत्रों के अनुसार शामली चौसना क्षेत्र निवासी शहजाद से सूचना मिली है कि 14 सितंबर 2021 को वह भाजपा नेता कुंवरपाल की दुकान में बम लगाकर भाग गया था। पुलिस ने उसे 27 सितंबर 2021 को जेल भेज दिया था, अप्रैल 2022 में शहजाद को जमानत मिल गई और वह फिर यहां से गायब हो गया।

लुकमान की हरकतें शुरू से ही संदिग्ध

गिरफ्तार किए गए सहारनपुर देवबंद के तीन मुस्लिम युवकों के नाम कारी मुख्तार, कामिल और लुकमान हैं। लुकमान एक मदरसा चलाता हैं और उनके सात बच्चे और छह भाई एक ही घर में रहते हैं। लुकमान की हरकतें शुरू से ही संदिग्ध रही हैं। वह जमात के बहाने घर में कम रहता था।

पूरे देश में अराजकता फैलाने के योजना!

हरिद्वार के नगला इमरती गांव निवासी मुदस्सिर की गिरफ्तारी उत्तराखंड पुलिस के लिए एक झटका है। इस आरोपी का यहां कोई आपराधिक या राष्ट्रविरोधी कृत्य करने का कोई पिछला रिकॉर्ड नहीं है। एक अन्य आरोपी झारखंड निवासी नवाजिश है।

कहा जा रहा है कि ये सभी एक ही योजना पर पूरे देश में अराजकता फैलाने के काम में शामिल रहे हैं। इनके पास से लैपटाप, पेन ड्राइव, आपत्तिजनक साहित्य बरामद किया गया है।

सहारनपुर के एसएसपी डॉ. विपिन टाडा के मुताबिक उन्हें इन गिरफ्तारियों की जानकारी मीडिया से मिली। पकड़े गए सहारनपुर के युवकों के बारे में भी जिला पुलिस अपने स्तर से जांच करेगी।

ATS द्वारा पकड़े गए संदिग्द
Mulayam Singh: धरतीपुत्र का तमगा विवादों से नाता! गोली चलवाने से लेकर महिलाओं पर तंज कसने पर रहे चर्चित
Since independence
hindi.sinceindependence.com