Maharashtra Politics: उद्धव को छोड़ शिंदे खेमे में शामिल हुए भतीजे निहार ठाकरे

महाराष्ट्र में एक बार फिर से राजनीतिक गर्मा बढ़ गई है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के भतीजे ने सीएम एकनाथ शिंदे का दामन थाम लिया है। उन्होंने शिंदे से मुलाकात करते अपना समर्थन दिया है।
Maharashtra Politics: उद्धव को छोड़ शिंदे खेमे में शामिल हुए भतीजे निहार ठाकरे

महाराष्ट्र में सियासी संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को एक और झटका लगा है। उद्धव ठाकरे के भतीजे निहार ठाकरे ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात करके अपना समर्थन दिया। निहार ठाकरे शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे के बड़े बेटे दिवंगत बिंदुमाधव ठाकरे के बेटे हैं।

पेशे से वकील हैं निहार ठाकरे

निहार के पिता बिंदुमाधव ठाकरे की मौत 1996 में एक दुर्घटना में हो गई थी। निहार मुंबई के एक वकील हैं। निहार अब तक राजनीति से दूर रहे हैं, लेकिन उनकी LinkedIn प्रोफाइल के अनुसार, निहार रणनीतिक कानूनी सलाहकार हैं, वो कई तरह के केस लड़ते हैं और कानूनी राय भी देते हैं। उन्होंने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (LSE) से इंटरनेशनल कमर्शियल लिटिगेशन का कोर्स किया. उन्होंने मुंबई के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज (जीएलसी) से एलएलबी की डिग्री हासिल की है।

बीजेपी से भी है कनेक्शन

निहार का बीजेपी से भी कनेक्शन है। दरअसल निहार की पत्नी अंकिता बीजेपी नेता हर्षवर्धन पाटिल की बेटी हैं। इसके अलावा निहार की एक बहन नेहा ठाकरे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि निहार ने शिंदे गुट में शामिल होने के साथ ही अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की है। मुख्यमंत्री शिंदे के कार्यालय से जारी बयान में कहा गया कि निहार ठाकरे इस मुलाकात के बाद अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत मुख्यमंत्री के नेतृत्व में करेंगे।

शिंदे गुट ने की थी बगावत

गौरतलब है कि शिंदे ने पिछले महीने पार्टी के लगभग 40 विधायकों के साथ शिवसेना नेतृत्व के खिलाफ बगावत कर दी थी। उन्होंने 30 जून को भाजपा के समर्थन से राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

Maharashtra Politics: उद्धव को छोड़ शिंदे खेमे में शामिल हुए भतीजे निहार ठाकरे
Terrorist Arrested: कुपवाड़ा में दो हाइब्रिड आतंकी पकड़े, पिस्टल और 10 ग्रेनेड बरामद

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com