1 अगस्त से बदले कई नियम: कमर्शियल सिलेंडर सस्ता, आयकर रिटर्न पर देना होगा जुर्माना, किसान सम्मान निधि के लिए KYC जरूरी

कमर्शियल गैस सिलेंडर सस्ता । रिटर्न दाखिल करने पर 5000 हजार रुपये जुर्माना । केवाईसी के बिना नहीं मिलेगी किसान सम्मान निधि । बैंक ऑफ बड़ौदा ने चेक से भुगतान के नियम बदले ।
1 अगस्त से बदले कई नियम: कमर्शियल सिलेंडर सस्ता, आयकर रिटर्न पर देना होगा जुर्माना, किसान सम्मान निधि के लिए KYC जरूरी

आज यानी 1 अगस्त से आपकी जिंदगी में कुछ अहम बदलाव होने जा रहे हैं। जहां कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर सस्ते हो गए हैं, वहीं अब इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने पर जुर्माना भरना होगा। नियम में कुछ बदलाव हुए हैं। 19 किलो का कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर आज से सस्ता हो गया है। इंडियन ऑयल ने अपनी कीमत में 1 रुपये की कटौती की है।

कमर्शियल गैस सिलेंडर सस्ता

अब दिल्ली में कमर्शियल गैस सिलेंडर 1976.50 रुपये में मिलेगा। पिछले महीने यह 2012.50 रुपये में उपलब्ध था। अब यह कोलकाता में 2095.50 रुपये, मुंबई में 1936.50 और चेन्नई में 2141 रुपये में उपलब्ध होगा। पिछले महीने भी इस सिलेंडर की कीमतों में कमी की गई थी, जबकि घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रुपये महंगा हो गया था। घरेलू गैस की कीमतें यथावत है। फिलहाल 14.2 किलो का एलपीजी सिलेंडर दिल्ली में 1053 रुपये, मुंबई में 1053 रुपये, कोलकाता में 1079 रुपये और चेन्नई में 1068.50 रुपये में मिल रहा है।

रिटर्न दाखिल करने पर 5000 हजार रुपये जुर्माना

अब इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने पर 5000 रुपये का जुर्माना लगेगा । सरकार ने रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई तय की थी, जो कल बीत चुकी है। अब तक तारीख नहीं बढ़ाई गई है, इसलिए रिटर्न करने वालों को पांच हजार रुपये तक का जुर्माना भरना होगा। जिनकी वार्षिक आय 5 लाख रुपये से कम है, उन्हें 1000 रुपये विलंब शुल्क के रूप में देना होगा। वार्षिक आय 5 लाख से अधिक होने पर 5000 रुपये जुर्माना देना होगा।

केवाईसी के बिना नहीं मिलेगी किसान सम्मान निधि

अब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने के लिए केवाईसी अनिवार्य हो गया है। योजना का लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन के साथ केवाईसी करना होगा। पुराने लाभार्थियों को केवाईसी के लिए 31 जुलाई तक का समय दिया गया था। यह बीत चुका है। जिन लाभार्थियों ने केवाईसी नहीं किया है, उन्हें पीएम किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त की राशि नहीं मिलेगी।

बैंक ऑफ बड़ौदा ने चेक से भुगतान के नियम बदले

बैंक ऑफ बड़ौदा ने आज से चेक से भुगतान के नियमों में बदलाव किया है। अब 5 लाख या इससे अधिक के चेक के लिए पॉजिटिव पे सिस्टम अनिवार्य होगा। यह बदलाव चेक भुगतान को सुरक्षित करने और धोखाधड़ी को रोकने के लिए किया गया है।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com