कश्मीर के किश्तवाड़ में पाकिस्तान को खुफिया जानकारी देने के आरोप में मौलवी गिरफ्तार

अब्दुल वाहिद पाकिस्तान के आतंकी संगठन कश्मीरी जांबाज फोर्स के लिए काम करता था। अब्दुल वाहिद का काम किश्तवाड़ में रहकर सेना और प्रशासन से जुड़ी खुफिया जानकारी जुटाना और उसे पाकिस्तान पहुंचाना था
मौलवी अब्दुल वाहिद
मौलवी अब्दुल वाहिदfile photo

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ भारतीय सेना ने एक बार फिर बड़ी कामयाबी हासिल की है। सुरक्षा बलों ने कश्मीर के किश्तवाड़ इलाके में रहकर पड़ोसी देश पाकिस्तान को खुफिया जानकारी देने के आरोप में एक मौलवी को गिरफ्तार किया है। सेना ने शनिवार को एक गुप्त सूचना के बाद किश्तवाड़ इलाके में 22 वर्षीय मौलवी अब्दुल वाहिद को गिरफ्तार कर लिया।

कश्मीरी जांबाज फोर्स के लिए काम करता था मौलवी
बताया जा रहा है कि अब्दुल वाहिद पाकिस्तान के आतंकी संगठन कश्मीरी जांबाज फोर्स के लिए काम करता था। अब्दुल वाहिद का काम किश्तवाड़ में रहकर सेना और प्रशासन से जुड़ी खुफिया जानकारी जुटाना और उसे पाकिस्तान पहुंचाना था। इसके अलावा वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के भी संपर्क में था।

अन्य ठिकानों पर छापेमारी

आपको बता दें कि इसी तरह की खुफिया जानकारी के आधार पर पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन जम्मू-कश्मीर में आतंकी वारदातों को अंजाम देते हैं। मौलवी अब्दुल वाहिद की गिरफ्तारी के बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी है और उसके अन्य ठिकानों पर भी छापेमारी की जा रही है। सैन्य खुफिया और स्थानीय पुलिस ने एक संयुक्त अभियान के बाद 22 वर्षीय मौलवी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अब्दुल वाहिद किश्तवाड़ स्थित एक मस्जिद में पढ़ाता था।

अन्य लोकेशन और नेटवर्क की भी जांच जारी

गिरफ्तार मौलवी ने सेना की पूछताछ में कबूल किया है कि वह सेना से जुड़ी खुफिया जानकारी किश्तवाड़ से पाकिस्तान भेज रहा था। पुलिस ने बताया कि मौलवी अब्दुल वाहिद पर किश्तवाड़ में सैन्य शिविर और पाकिस्तान में आतंकवादियों के साथ सेना के अधिकारियों की आवाजाही की जानकारी साझा करने का आरोप है। पूछताछ में उसने यह बात भी कबूल की है। मौलवी अब्दुल वाहिद को कोर्ट में पेश किया जाएगा। इसके साथ ही उसकी अन्य लोकेशन और नेटवर्क की भी जांच की जा रही है।

मौलवी अब्दुल वाहिद
Religionization : हाथ बांधकर होती है प्रार्थना, 70 सरकारी स्कूल बने मजहबी, न जानें और कितने?
Since independence
hindi.sinceindependence.com