PFI कनेक्शन मामले में नूरुद्दीन उर्फ जंगी लखनऊ से गिरफ्तार

बिहार के पटना टेरर मॉड्यूल मामले में थी पुलिस को तलाश, कोर्ट में पीएफआई के सदस्यों का करता था प्रतिनिधित्व
यह है आरोपी नूरुद्दीन उर्फ ​​जंगी, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया ।
यह है आरोपी नूरुद्दीन उर्फ ​​जंगी, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया ।

बिहार के पटना टेरर मॉड्यूल मामले में अब तक कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। बिहार के फुलवारी शरीफ में टेरर मॉड्यूल का पीएफआई कनेक्शन सामने आया है। बिहार के PFI कनेक्शन में नूरुद्दीन उर्फ ​​जंगी को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया है । पटना पुलिस के इनपुट पर यूपी एटीएस ने लखनऊ से नूरुद्दीन उर्फ ​​जंगी को गिरफ्तार कर पटना पुलिस के हवाले कर दिया । बताया जा रहा है कि वह कोर्ट में पीएफआई के सदस्यों का प्रतिनिधित्व करता था।

खास समुदाय के लोगों का किया जा रहा ब्रेनवॉश

आपको बता दें कि पटना टेरर मॉड्यूल मामले में गिरफ्तार किए गए लोग एक खास समुदाय के लोगों को ट्रेनिंग दे रहे थे । इसके बाद एनआईए ने भी इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। पटना पुलिस ने अतहर परवेज और मोहम्मद जलालुद्दीन को फुलवाशरीफ से गिरफ्तार किया था । इसके बाद मारगुब दानिश, अरमान मलिक और शब्बीर आलम को गिरफ्तार किया गया।

आलम को बम धमाकों के आरोप में किया था गिरफ्तार

पटना पुलिस का दावा है कि एक खास समुदाय के लड़कों का ब्रेनवॉश करने के बाद अतहर परवेज उन्हें ट्रेनिंग दे रहा था । अतहर परवेज के भाई मंजर आलम 2013 में पटना के गांधी मैदान में पीएम मोदी की हुंकार रैली और बोधगया में बम धमाकों के आरोप में गिरफ्तार गया था। वह इस समय जेल में है। पुलिस ने कहा था कि दोनों संदिग्ध के लिंक पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) से जुड़े हैं। पुलिस ने दोनों के पास से पीएफआई का झंडा, बुकलेट, पैम्फलेट और कई संदिग्ध दस्तावेज बरामद किए हैं, जिसमें 2047 तक भारत को इस्लामिक देश बनाने का जिक्र था।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com