हाईवे बनेगे हाईटेक: अब बिना FASTAG दौड़ेगी सड़को पर गाड़ियां, जल्द एएनपीआर सिस्टम होगा लागू, आखिर क्या है एएनपीआर सिस्टम

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय एक नया कॉन्सेप्ट लेकर आ रहे है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) राजस्थान में एक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे बना रहा है जहां कोई टोल बूथ नहीं होगा। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि वाहन के मालिक को उतनी ही कीमत चुकानी पड़ेगी जितनी उसने हाईवे पर गाड़ी चलाई है
हाईवे बनेगे हाईटेक: अब बिना FASTAG  दौड़ेगी सड़को पर गाड़ियां, जल्द एएनपीआर सिस्टम होगा लागू, आखिर क्या है एएनपीआर सिस्टम

हाईवे पर लंबी लाइनों में खड़े होने की जरूरत नहीं पड़ेगी। न ही आपको चिंता करने की जरूरत है कि कुछ किमी के सफर के लिए आपको पूरा टोल देना होगा। अब राजस्थान से निकलने वाले हाईवे जल्द ही हाईटेक होने जा रहे हैं। इन पर जल्द ही एएनपीआर (ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर) सिस्टम लागू होने जा रहा है।

क्या है नया सिस्टम
दरअसल, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय एक नया कॉन्सेप्ट लेकर आ रहे है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) राजस्थान में एक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे बना रहा है जहां कोई टोल बूथ नहीं होगा। इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि वाहन के मालिक को उतनी ही कीमत चुकानी पड़ेगी जितनी उसने हाईवे पर गाड़ी चलाई है। इसकी शुरुआत राजस्थान से गुजरने वाले ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे से होगी।

एक्सप्रेस-वे की कुल लंबाई राजस्थान में 637 किमी

पंजाब के अमृतसर से गुजरात के जामनगर तक यह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे राजस्थान से भी जुड़ जाएगा। यह पंजाब, हरियाणा और अरब सागर के बंदरगाहों से भी जुड़ा होगा। भारत माला प्रोजेक्ट के तहत बन रहे इस ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे की कुल लंबाई राजस्थान में 637 किमी है, जबकि पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात में इस पूरे प्रोजेक्ट की कुल लंबाई 1,224 किमी है।

इस एक्सप्रेस-वे पर बहुत कम कर्व और टर्न

इस परियोजना के पूरा होने के बाद यह राजस्थान का सबसे बड़ा समर्पित एक्सप्रेस-वे बन जाएगा। खास बात यह है कि इस एक्सप्रेस-वे पर बहुत कम कर्व और टर्न हैं। वर्तमान में राजस्थान में 6 लेन की परियोजना का 64% (407KM) पूरा हो चुका है। पूरी परियोजना पर लगभग 14,707 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है और इस परियोजना को सितंबर 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य है।

हाईवे बनेगे हाईटेक: अब बिना FASTAG  दौड़ेगी सड़को पर गाड़ियां, जल्द एएनपीआर सिस्टम होगा लागू, आखिर क्या है एएनपीआर सिस्टम
आखिर बसपा ने बिगाड़ ही दिया सपा का खेल! सटीक निकला सिंस इंडिपेंडेंस का आकलन, आजमगढ़ में 13 साल बाद खिला कमल

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com