PUNJAB: धर्मांतरण के आरोप वाले चर्च में तोड़फोड़, ईसाईयों ने रोड़ किया जाम

मंगलवार रात 12.30 बजे चार लोग चर्च में दाखिल हुए और उन्होने भगवान यीशू और मां मरियम का मूर्ति का सिर तोड़ दिया इसके बाद उन्होंने पादरी की कार में आग लगा दी। सीसीटीवी कैमरों में दो आरोपी दिखाई दिए हैं।
PUNJAB: धर्मांतरण के आरोप वाले चर्च में तोड़फोड़, ईसाईयों ने रोड़ किया जाम

देश में चल रहे सांप्रदायिक माहौल के बीच अब पंजाब में एक चर्च में तोड़फोड़ करने का मामला सामने आया है। दरअसल पंजाब के तरनतारन शहर में एक चर्च में चार लोगों ने तोड़फोड़ की है।

उपद्रवी मंगलवार रात 12.30 बजे चर्च में दाखिल हुए और उन्होने भगवान यीशू और मां मरियम का मूर्ति का सिर तोड़ दिया इसके बाद उन्होंने पादरी की कार में आग लगा दी। सीसीटीवी कैमरों में दो आरोपी दिखाई दिए हैं। घटना के चलते इलाके में तनाव है।

इसी चर्च पर धर्मांतरण के आरोप लग रहे हैं और निहंग सिख कई दिन से प्रशासन से शिकायत कर रहे हैं। गौरतलब है कि तीन दिन पहले जंडियाला के पास गांव में ईसाइयों और निहंगों के बीच झड़प हुई थी।

CCTV में कैद हुई घटना

तरनतारन के इस चर्च में रात 12.30 बजे 4 अराजक तत्व दाखिल हुए और उन्होने गार्ड के सर पर पिस्तौल रख दी। गार्ड को बांधकर वो चर्च में घुस गए जहां पहली मंजिल पर मां मरियम और भगवान यीशू की मूर्ति के सिर को अलग कर खंडित कर दिया।

पूरी घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई है। जानकारी के अनुसार आरोपी मूर्तियों से सिर को अलग कर अपने साथ ले गए। इस दौरान उन्होनें चर्च के अंदर खड़ी पादरी की कार को भी आग लगा दी।

विरोधः सड़कों पर आए ईसाई

चर्च में हुई घटना के बाद मामले का विरोध शुरू हो गया है। ईसाई धर्म के लोगों ने बुधवार सुबह पट्टी खेमकरण राज्य मार्ग पर जाम लगा दिया है और धरने पर बैठ गए हैं। इनकी मांग है कि इंसाफ हो और आरोपियों को पकड़ा जाए।

निहंगों और ईसाइयों का विवाद काफी पुराना

फिलहाल ये घटना किसने की है इसका खुलासा तो नहीं हुआ है लेकिन पंजाब में निहंग सिख और ईसाइयों का पुराना विवाद है।

रविवार को भी जंडियाला गुरू के गांव डडुआना में निंहग सिखो ने ईसाइयों के कार्यक्रम में विवाद उत्पन्न किया था। दरअसल निहंगो का कहना है कि ये ईसाई पादरी पाखंडी हैं और हिंदुओं तथा सिखों को बहका कर उनका धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं।

निहंग सिख प्रशासन को कई बार ये शिकायत दे चुके हैं। लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। जबकि रविवार को हुए घटनाक्रम में 150 निहंग सिखों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है लेकिन निहंग सिखों की शिकायतों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

PUNJAB: धर्मांतरण के आरोप वाले चर्च में तोड़फोड़, ईसाईयों ने रोड़ किया जाम
KARNATAKA: ईदगाह मैदान में मनेगी गणेश चतुर्थी, हाईकोर्ट ने देर रात दिया फैसला
Since independence
hindi.sinceindependence.com