Ashok gehlot- Since Independence
Ashok gehlot- Since Independence

Rajasthan: अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष की रेस से बाहर? पांच चेहरों पर टिकी सभी की निगाहें

Congress President Election 2022: राजस्थान में सियासी संकट के बीच कहा जा रहा है कि अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर हो सकते है। ऐसे में कांग्रेस अन्य नामों पर भी विचार कर सकती है। फिलहाल कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में पांच नामों की चर्चा है।

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव का आगाज हो चुका है, लेकिन इस आगाज से राजस्थान कांग्रेस में सियासी संकट छा गया है। राजस्थान कांग्रेस में सियासी संकट के बीच कहा जा रहा है कि अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर हो सकते है।

गहलोत सीएम पद छोडने के मूड में दिखाई नहीं दे रहे है, यूं कहा जाए कि वह अपनी पसंद का सीएम बनाना चाहते है। गांधी परिवार की पहली पसंद गहलोत अगर कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर होते है, तो ऐसे में कई दावेदार देखने को मिल सकते है। अब आगे देखना होगा कि उम्मीदवार कौन-कौन होगें?

सूत्रों के मुताबिक तो, राजस्थान में सियासी संकट से पहले मुकाबला अशोक गहलोत बनाम शशि थरूर नजर आ रहा था, मगर अब परिस्थिति के साथ स्थितियां बदल नजर आ रही है और बदले हुए राजनीतिक परिदृश्य में कांग्रेस के कई नेता अपनी किस्मत आजमाने के मूड में दिखाई पड़ रहे है।

सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर होने की स्थिति में पार्टी के ही पांच नेताओं के नाम की चर्चा है, जो इस रेस में बताए जा रहे है। हालांकि, अब तक इनमें से किसी ने भी नामांकन नहीं भरा है।

शशि थरूर: शशि थरूर का नाम कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में सबसे आगे चल रहा है। थरूर केरल के तिरुवनंतपुरम से कांग्रेस के लोकसभा सांसद है। इससे पहले यूपीए सरकार में वह मानव संसाधन विकास मंत्रालय और विदेश मंत्रालय में राज्य मंत्री थे।

मल्लिकार्जुन खड़गे: इनका भी नाम अब कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में उछल रहा है। मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के काफी सीनियर नेता है और मौजूदा वक्त में कर्नाटक से राज्यसभा सांसद है। फरवरी 2021 से राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभा रहे है। वह यूपीए सरकार में रेलवे से लेकर कई मंत्रालयों के मंत्री के रूप में जिम्मेदारी निभा चुके है।

दिग्विजय सिंह: दिग्विजय सिंह कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव लड़ने के लिए पहले ही संकेत दे चुके है। हालांकि, उन्होंने कहा था कि अगर आलाकमान उन्हें कहेगा तो वह चुनाव लड़ेंगे। यही वजह है कि दिग्विजय सिंह के भी चुनाव लड़ने की संभावना है। फिलहाल, वह राज्यसभा के सदस्य है।

केसी वेणुगोपाल: केसी वेणुगोपाल भी अब कांग्रेस अध्यक्ष पद की दावेदारी में आ गए है। सूत्रों की मानें तो वह भी कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भर सकते है फिलहाल वह राजस्थान से राज्यसभा के सांसद है।

मनीष तिवारी: कांग्रेस के दिग्गज नेता मनीष तिवारी के नाम की भी अटकलें है। सूत्रों की मानें तो मनीष तिवारी भी कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने पर विचार कर रहे है।

बहरहाल, नामांकन भरने की आखिरी तारीख 30 सितंबर तक फैसला हो जाएगा कि कौन-कौन इस पद के लिए दावेदार है।

कब है कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव?

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी हो चुकी है और घोषित कार्यक्रम के अनुसार, नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर तक चलेगी। नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि 8 अक्टूबर है। एक से अधिक उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित किये जाएंगे।

Ashok gehlot- Since Independence
कंडोम-पिल्स से ज्यादा असरदार नेपाल में बनी गर्भनिरोधक डिवाइस, नेपाल जाकर भारतीय महिलाएं लगवा रही डिवाइस

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com