तो MTS में भी फर्जियों की एंट्री! MLA हुडला के भाई ने बिठाया डमी कैंडिडेट, अरेस्ट

SSC की MTS परीक्षा में भी अब फर्जीवाड़ा करने वाले सेंध लगाने लगे है । जयपुर के एक सेंटर पर डमी कैंडिडेट बैठा कर परीक्षा दिलाते पुलिस ने निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुडला के भाई हरिओम मीणा को धरदबोचा, गिरोह के सरगना टोडाभीम के कमल कुमार मीणा की पुलिस को तलाश ।
परीक्षा में पकड़ा गया विधायक का भाई
परीक्षा में पकड़ा गया विधायक का भाई

दौसा जिले की महुआ विधानसभा सीट से निर्दलीय विधायक ओम प्रकाश हुडला का भाई हरिओम मीणा परीक्षा में नकल करने के आरोप में पुलिस के द्वारा 26 जुलाई को गिरफ्तार किया गया है । हरिओम के अलावा एक और साथी ऋषि कुमार को पुलिस ने डमी कैंडिडेट के रुप में पकड़ा है । पुलिस ने यह कार्रवाही यागवल्य इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी सीतापुरा जयपुर में की है । कॉलेज में सोमवार को एमटीएस (मल्टी टास्किंग स्टाफ कर्मचारी चयन आयोग परीक्षा) का पेपर चल रहा था । उमेश पुत्र कंवर पाल मीणा की जगह पर यह डमी कैंडिडेट ऋषि कुमार परीक्षा दे रहा था ।

शिवदासपुरा थाना पुलिस सूचना मिलते ही टीम को मौके के लिए भेजा गया । इस दौरान पुलिस ने कार में बैठे विधायक भाई हरिओम मीणा और परीक्षा दे रहे ऋषि कुमार को गिरफ्तार कर लिया । दोनों से पुलिस शिवदासपुरा थाने में पूछताछ कर रही है।

चार जगहों पर बैठे डमी कैंडिडेट

डीसीपी साउथ योगेश गोयल ने बताया कि पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि नकल करने वाले गिरोह का सरगना टोडाभीम का कमल कुमार मीणा है । कमल ने विधायक के भाई हरिओम मीणा से संपर्क किया और कहा कि उनके पास कोई डमी उम्मीदवार हैं, जो परीक्षा में बैठ सकते हैं । इसके बाद दोनों के बीच पैसों को लेकर बात हो गई।

पुलिस पूछताछ में आरोपितों ने बताया है कि वह अब तक चार जगहों पर डमी अभ्यर्थियों को लगवाकर परीक्षा में फर्जीवाड़े करवा चुका है। शिवदासपुरा थाना पुलिस फरार कमल कुमार मीणा व परीक्षा के मुख्य प्रत्याशी सपोटरा निवासी उमेश मीणा की तलाश कर रही है ।

हुडला निर्दलीय विधायक, भाजपा प्रत्याशी को हराया

ओम प्रकाश हुडला दौसा जिले की महुआ विधानसभा सीट से निर्दलीय विधायक हैं । वे राजस्थान की पिछली भाजपा सरकार में संसदीय सचिव थे। सांसद किरोड़ी लाल मीणा की पत्नी गोलमा देवी 2013 से 2018 तक महुआ सीट से विधायक थीं। ओम प्रकाश हुडला ने निर्दलीय चुनाव लड़ कर भाजपा की प्रत्याशी गोलमा देवी को लगभग 16000 मतों हराया था ।

अब केन्द्र की परीक्षा में भी सेंध

हाल ही में राजस्थान में हुई रीट की परीक्षा में भी कई जगहों पर फर्जी परीक्षार्थीयों के बैठने का मामला सामने आया था । अब राजस्थान में आयोजित SSC की परीक्षा में इस तरह से डमी कैंडिडेट बैठने के मामले ने कई सवालिया निशान खड़े कर दिये है । क्या राजस्थान में परीक्षाओं में नकल कराने वाला कोई बड़ा गिरोह सक्रिय है । यह सवाल इस लिए खड़ा हो रहा है क्योंकि राजस्थान में डमी कैंडिडेट का परीक्षा में बैठने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है ।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com