शिक्षक भर्ती घोटाला: अर्पिता की और बढ़ीं मुश्किलें, 40 पन्ने की काली डायरी से खुलेंगे कई राज, बंगाल में ED की 6 जगहों पर छापेमारी

डायरी मिलने से हुए खुलासे के बाद की गई छापेमारी, ईडी की 15 अधिकारियों की टीम अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी के दो फ्लैट और बारासात में एक साड़ी की दुकान, गरियाहाट की एक दुकान समेत कुल 6 जगहों पर तलाशी ले रहे है।
शिक्षक भर्ती घोटाला: अर्पिता की और बढ़ीं मुश्किलें, 40 पन्ने की काली डायरी से खुलेंगे कई राज, बंगाल में ED की 6 जगहों पर छापेमारी

पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले में ईडी की जांच तेजी से आगे बढ़ रही है। ईडी ने बुधवार को अर्पिता मुखर्जी के एक अन्य फ्लैट और एक कंपनी के कार्यालय पर छापा मारा। सूत्रों के मुताबिक ईडी को मिली ब्लैक डायरी से मिली जानकारी के आधार पर यह छापेमारी की गई है।

दरअसल, पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी की छापेमारी के दौरान ईडी को एक ब्लैक डायरी मिली थी। माना जाता है कि इस डायरी में कई अहम जानकारियां उपलब्ध है। इस डायरी से कई खुलासे हो सकते है।

सूत्रों के मुताबिक, ब्लैक डायरी बंगाल सरकार के उच्च और स्कूली शिक्षा विभाग की है। इस डायरी में 40 पन्ने हैं, जिनमें बहुत कुछ लिखा है।

पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले में मंत्री पार्थ चटर्जी और करीबी अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी की गिरफ्तारी के बाद ईडी ने बुधवार को फिर से बेलघरिया में अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट, राजडांगा में इच्छा इंटरनेट, बारासात में साड़ी की दुकान समेत छह जगहों पर छापेमारी की। ईडी की टीम अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया स्थित फ्लैट पर पहुंची।

15 अधिकारियों की टीम वहां पहुंच गई है। अर्पिता के बेलघरिया हाउसिंग में कुल दो फ्लैट है। ईडी के अधिकारी बारासात में एक साड़ी की दुकान, गरियाहाट की एक दुकान समेत कुल 6 जगहों पर तलाशी ले रहे है। इस बीच ईडी के अधिकारी मंत्री पार्थ चटर्जी और अर्पिता के साथ जोका के ईएसआई अस्पताल ले गए है। उसकी मेडिकल जांच की जा रही है, वहीं 26 जुलाई को पूछताछ के बाद बुधवार को ईडी ने फिर छापेमारी की है।

बता दें कि ईडी ने शुक्रवार को टैलीगंज के डायमंड सिटी कॉम्प्लेक्स स्थित अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 21 करोड़ से ज्यादा की नकदी बरामद की थी। जांच में पता चला कि अर्पिता मुखर्जी के नाम और भी फ्लैट हैं।

बेलघरिया में अर्पिता मुखर्जी के नाम दो फ्लैट है। अर्पिता मुखर्जी कुछ साल पहले तक वहां नियमित रूप से रहती थी। बेलघरिया के घर के एक पड़ोसी ने कहा कि उन्होंने पार्थ चटर्जी को बेलघरिया के घर जाते समय कभी नहीं देखा, लेकिन कभी-कभी तृणमूल के कुछ लोग आ जाते थे। अर्पिता अपनी मां के साथ बेलघरिया के उस घर में रहती थी।

पड़ोसियों का अनुमान है कि अर्पिता के पास दो फ्लैट हैं, जिनमें से एक की कीमत करीब 70-75 लाख और दूसरे की कीमत करीब 85 लाख है। वहीं बेलघरिया में अर्पिता के फ्लैट पर ताला लगा हुआ है और उसे डुप्लीकेट चाबी से खोलने की तैयारी की जा रही है।

शिक्षक भर्ती घोटाला: अर्पिता की और बढ़ीं मुश्किलें, 40 पन्ने की काली डायरी से खुलेंगे कई राज, बंगाल में ED की 6 जगहों पर छापेमारी
पश्चिम बंगालः घोटाले पर ईडी की मार, निकला नोटों का अंबार, मंत्री और करीबी गिरफ्तार

माणिक भट्टाचार्य से कर रहे है पूछताछ

उधर, तृणमूल कांग्रेस के एक अन्य विधायक और प्राथमिक शिक्षा परिषद के पूर्व अध्यक्ष माणिक भट्टाचार्य से ईडी पूछताछ कर रही है। ऐसे समय में जब पार्थ चटर्जी जैसे बड़े नेता गिरफ्त में हैं, माणिक भट्टाचार्य को सम्मन अपने आप में महत्वपूर्ण माना जाता है। सूत्रों ने बताया है कि पार्थ चटर्जी के घर छापेमारी के दौरान नियुक्ति से जुड़े दस्तावेज मिले है।

इनमें माणिक भट्टाचार्य का भी उल्लेख है, क्योंकि वे प्राथमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष रह चुके हैं, इसलिए उनका भी भर्ती प्रक्रिया से गहरा नाता रहा है। माना जा रहा है कि पार्थ चटर्जी के साथ आमने-सामने बैठकर उनसे भी पूछताछ की जा सकती है। अर्पिता ने सभी सवालों के जवाब दे दिए हैं लेकिन पार्थ चटर्जी जांच में सहयोग नहीं कर रहे है।

शिक्षक भर्ती घोटाला: अर्पिता की और बढ़ीं मुश्किलें, 40 पन्ने की काली डायरी से खुलेंगे कई राज, बंगाल में ED की 6 जगहों पर छापेमारी
शिक्षक भर्ती घोटालाः ED का खेल, पार्थ जाएंगे जेल! पार्टी की साख बचाने की कवायद में जुटीं ममता
Since independence
hindi.sinceindependence.com