Target पर नाज: फरमानी के 'हर हर शंभू' से चिढ़े उलेमा, बताया इस्लाम विरोधी, बॉलीवुड सेलिब्रिटी खामोश

मुस्लिम सिंगर फरमानी नाज द्वारा गाया गया भजन 'हर हर शंभू' सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो सिंगर का यूं भजन गाना मुस्लिम उलेमाओं को रास नहीं आया। देवबंद उलेमा मुफ्ती असद कासमी ने इसे इस्लाम विरोधी बताते हुए अपराध बताया।
Target पर नाज: फरमानी के 'हर हर शंभू' से चिढ़े उलेमा, बताया इस्लाम विरोधी, बॉलीवुड सेलिब्रिटी खामोश

मुस्लिम सिंगर फरमानी नाज द्वारा गाया गया भजन 'हर हर शंभू' को लोग काफी पसंद कर रहे है, लेकिन नाज का यूं भजन गाना मुस्लिम उलेमाओं को रास नहीं आ रहा। देवबंद उलेमा मुफ्ती असद कासमी ने इस इस्लाम विरोधी बताते हुए अपराध बताया है। अब प्रश्न यह उठता है कि एक गरीब घर से आने वाली मुस्लिम महिला फरमानी नाज ही ऐसे उलेमाओं के निशाने पर क्यों आती है? जबकि फिल्म जगत में तो मुस्लिम कलाकारों द्वारा हिंदू भजन, गीत गाना और हिंदू पात्रों के किरदार निभाना आम बात है। सलमान खान, आमिर खान, शाहरुख खान, नसुरीद्दीन शाह, सवाना आजमी, जावेद अख्तर, फरहान अख्तर समेत कई बड़े नाम आप सभी जानते है। लेकिन इनके किरदारों पर कभी किसी उलेमा ने सवाल नहीं उठाया, जबकि अश्लीलता के मामले में तो बॉलीवुड का कोई सानी नहीं है। बड़ी बात यह है कि फरमानी नाज के उपर उलेमा की इस टिप्पणी के खिलाफ यह कलाकार चुप है।

'इंडियन आइडल' के मंच से चर्चा में आई

फरमानी नाज 'इंडियन आइडल' के मंच से चर्चा में आई थीं। फरमानी नाज अपनी पहचान बनाने और सफलता पाने के लिए 'इंडियन आइडल' के मंच पर पहुंची थीं। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। फरमानी को शो बीच में ही छोड़ना पड़ा। क्या हुआ अगर फरमानी नाज ने अपना इंडियन आइडल का सफर पूरा नहीं किया, उसके बाद भी उनके इरादे बुलंद रहे।

फरमानी के पति ने बिना तलाक दिये दूसरी शादी कर ली, तब यह उलेमा कहां थे। ससुराल वालों की तरफ से फरमानी को परेशान किया और उसे मजबूरन अपने बच्चे के साथ घर छोड़कर ससुराल जाना पड़ा, तब यह उलेमा कहां थे। जब बॉलीवुड में ड्रग की बात होती है तो कई सारे एक्टर एक्टिव हो जाते है। लेकिन फरमानी के ऊपर जारी फरमान पर आखिर ड्रग पर हाय-हाय करने वालों को क्यों सांप सुंघ गया?

हर हर शंभू गाना हुआ वायरल

फरमानी नाज इन दिनों अपने नए शिव भजन हर हर शंभू को लेकर सुर्खियों में हैं। अब फरमानी के इस भजन को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। फरमानी नाज शिव भजन गाकर मुस्लिम कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गई है। फरमानी ने लोकप्रिय गीत हर हर शंभू गाया, जिसने देवबंदी उलेमा को नाराज कर दिया।

देवबंदी उलेमा की सलाह

फरमानी नाज के शिव भजन के बारे में देवबंदी उलेमा ने उन्हें सलाह भी दी और कहा कि यह इस्लाम के खिलाफ है। यह अपराध है। फरमानी को इसे खत्म कर देना चाहिए था। सोशल मीडिया पर फरमानी को मुस्लिम होकर शिव भजन गाने पर ट्रोल किया जा रहा है।

गाना गाकर ही परिवार का पालन पोषण करती फरमानी

अब इस फरमान के बाद फरमानी नाज ने कहा कि एक कलाकार के तौर पर उन्होने ऐसा गाना गाया । वह यह सोचकर गाना नहीं गाती कि वह खुद किस धर्म की है। वह हर तरह के गाने गाती है। वह गाना गाकर ही परिवार का पालन पोषण करती है।

फरमानी नाज ने इमरान से साल 2017 में शादी की थी। शादी के 1 साल बाद उन्हें एक बेटा हुआ। इसके बाद ससुराल वाले फरमानी को प्रताड़ित करने लगे। फरमानी के बेटे के गले में किसी तरह की बीमारी के कारण उसके ससुराल वाले उसे मायके से पैसे लाने को कहते रहे।

हर हर शंभू को देखा 7 लाख से ज्यादा लोगों ने

वहीं फरमानी की किस्मत बदल गई है। वह एक YouTube गायिका बन गई हैं। उनका एक यूट्यूब चैनल है। फरमानी के गाने खूब सुने जाते हैं। फरमानी के यूट्यूब पर 3.84 मिलियन सब्सक्राइबर हैं। उनके गाए गाने हर हर शंभू को 7 लाख से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं।

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com