World Largest Pen: हिमाचल के स्कूल में 20 फीट लंबा स्याही वाला पेन स्थापित, खूबियां जान कर हो जाओगे हैरान

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिला के एक सरकारी स्कूल में स्याही वाला ऐसा पेन स्थापित किया गया है जिसकी खूबियां जानकर आप चौंक जाओगे। 45 हजार रुपए की लागत से बना एक फीट मोटा और 43 किलो वजनी यह पेन स्कूल के अध्यापकों ने मिलकर बनाया है। जाने इसकी खूबियां....
World Largest Pen: हिमाचल के स्कूल में 20 फीट लंबा स्याही वाला पेन स्थापित, खूबियां जान कर हो जाओगे हैरान

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के सरकारी उच्च विद्यालय नौरंगाबाद में शनिवार को 20 फीट लंबा, एक फीट मोटा और 43 किलो वजनी स्याही वाला पेन शक्ति स्थापित किया गया। पेन बनाने वाले स्कूल शिक्षक का दावा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा पेन है, जो लिखेगा ही नहीं, बल्कि किसी भी शिक्षक के छुट्टी पर होने पर उनकी ओर से रिकॉर्ड लेक्चर विद्यार्थियों को सुनाएगा भी। शिक्षण-अधिगम तकनीक से युक्त यह पेन दिन को विद्यार्थियों की निगरानी और रात को स्कूल की पहरेदारी करेगा।

स्कूल शिक्षक डॉ. संजीव अत्री ने शिक्षकों के सहयोग से पेन का डिजाइन बनवाया और 45 हजार रुपए की लागत से तीन माह में इसे तैयार भी करवाया। इस पेन को शक्ति नाम दिया गया है। लोहे और लकड़ी से पेन तैयार करने में जो खर्च आया, उसे सभी शिक्षकों ने वहन किया। इसमें लगे सेंसर हर तरह की कमांड संभालेंगे। इससे पहले वर्ल्ड रिकॉर्ड में 18 फीट लंबा बॉल पेन दर्ज है।

इस पेन के बारे में लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड को भी सूचित किया गया है। यह टीम पेन का मुआयना करने भी आ सकती है। पेन की विधिवत पूजा-अर्चना से स्थापना के समय पेन ने ही खुद मंत्रोच्चारण किया और मुख्यातिथि विधायक राजीव बिंदल का बोलकर अभिनंदन भी किया।

प्रार्थना सभा करवाएगा, गीत-कहानी भी सुनाएगा

ये पेन लिख सकता है। शारीरिक शिक्षक की गैर मौजूदगी में बच्चों को प्रार्थना सभा करवा सकता है। किसी शिक्षक के छुट्टी पर जाने पर उनकी आवाज में पाठ पढ़ा सकेगा। इसके लिए एक दिन पहले उस शिक्षक को अपना पाठ पेन में रिकॉर्ड करना होगा।

परिसर में स्थापित होने से यह सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा। गीत, कहानी जैसी हर चीज बच्चों को सुना सकता है। इसका नियंत्रण मुख्याध्यापक कार्यालय में रहेगा। स्कूल परिसर की हर गतिविधि भी पेन में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद होगी। पेन जो पढ़ाई करवाएगा, उसकी सारी रिपोर्टिंग नियंत्रण कक्ष को भी भेजेगा।

दो लीटर स्याही की क्षमता

शिक्षक संजीव अत्री ने बताया कि यह दुनिया का सबसे बड़ा पेन है। इसमें एक समय में दो लीटर स्याही डाली जा सकती है। इसमें सोलर सिस्टम भी स्थापित किया जाएगा, जो रात को रोशनी बिखेरेगा। उन्होंने कहा कि लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड को इस बारे में मेल से जानकारी दी गई। रिस्पांस मिलने के बाद उन्हें फोटो भी भेजी जा चुकी है।

World Largest Pen: हिमाचल के स्कूल में 20 फीट लंबा स्याही वाला पेन स्थापित, खूबियां जान कर हो जाओगे हैरान
Udaipur: सरकारी स्कूल में दलित छात्राओं के साथ भेदभाव, हाथ लगाने पर फिकवाया खाना
Since independence
hindi.sinceindependence.com