मुख़्यमंत्री गहलोत ने शिक्षको की भर्ती को लेकर लिया त्वरित निर्णय,14 और 15 मई को होगी रीट परीक्षा

आगामी वर्ष में 14 एवं 15 मई को रीट-2022 परीक्षा आयोजित किए जाने का महत्वपूर्ण निर्णय किया है।
मुख़्यमंत्री गहलोत ने शिक्षको की भर्ती को लेकर लिया त्वरित निर्णय,14 और 15 मई को होगी रीट परीक्षा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

राजस्थान में कड़ाके की ठंड है और राजधानी जयपुर में कुछ युवा अपनी मांगो को लेकर शहीद स्मारक पर धरना दे रहे है। धरना कई दिनों से लगातार जारी है। प्रदर्शन के दौरान पुलिस के द्वारा हल्का बल भी प्रयोग किया गया। युवाओ की प्रमुख मांग है की रीट के पद 50,000 किये जाये। वही गहलोत ने एक कार्यक्रम के दौरान तंज कस्ते हुए कहा की कुछ लोग बेरोजगार के नाम पर अपना संग बना लेते है।

गौरतलब है की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में करीब 20 हजार शिक्षकों की भर्ती के लिए आगामी वर्ष में 14 एवं 15 मई को रीट-2022 परीक्षा आयोजित किए जाने का महत्वपूर्ण निर्णय किया है। इस भर्ती में विशेष शिक्षकों के पद भी शामिल किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री निवास पर शिक्षा विभाग की बैठक में यह निर्णय किया गया। गहलोत ने कहा कि प्रदेश में युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने तथा रिक्त पदों को भरने के लिए राज्य सरकार निरंतर फैसले ले रही है। इसके लिए समयबद्ध रूप से भर्ती परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। हाल ही में 31 हजार पदों पर भर्ती के लिए रीट परीक्षा का आयोजन किया गया था। इसी क्रम में आगामी वर्ष में शिक्षकों के 20 हजार पदों पर भर्ती के लिए रीट परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।

<div class="paragraphs"><p>मुख्यमंत्री अशोक गहलोत</p></div>

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूलों को लेकर लोगों में अच्छा फीडबैक है

गहलोत ने निर्देश दिए कि पैराटीचर्स, शिक्षाकर्मी, मदरसा पैराटीचर्स एवं पंचायत सहायकों की समस्याओं का सर्वोच्च न्यायालय के निर्णयाें को ध्यान में रखते हुए हल करने के लिए समयबद्ध रूप से कार्य योजना बनाई जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए खोले जा रहे महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूलों को लेकर लोगों में अच्छा फीडबैक है। इन स्कूलों को और बेहतर बनाने के प्रयास किए जाएं। साथ ही इसका विश्लेषण करें कि आवश्यकता के आधार पर किन-किन क्षेत्रों में और अधिक संख्या में यह स्कूल खोले जा सकते हैं। इन स्कूलाें में अंग्रेजी में अध्यापन की योग्यता रखने वाले शिक्षक लगाए जाएंगे, इसके लिए भर्तियों में उचित व्यवस्था की जाएगी।

Like Follow us on :- Twitter | Facebook | Instagram | YouTube


<div class="paragraphs"><p>मुख्यमंत्री अशोक गहलोत</p></div>
CM Ashok Gehlot : राजस्थान में आर्थिक व्यवस्था को तगड़ा झटका

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com