औरंगजेब की कब्र पर अकबरुद्दीन ओवैसी नतमस्तक, शिवसेना ने कहा- इस क्रूर मुगल सम्राट की कब्र पे तो मुसलमान भी नहीं जाते

अकबरुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले के खुल्दाबाद में मुगल सम्राट औरंगजेब की मजार (tomb of the Mughal emperor Aurangzeb) पर चादर और फूल चढ़ाए। इसके बाद पॉलिटिकल पार्टियों ने उन हमले शुरू कर दिए।
औरंगजेब की कब्र पर अकबरुद्दीन ओवैसी नतमस्तक, शिवसेना ने कहा- इस क्रूर मुगल सम्राट की कब्र पे तो मुसलमान भी नहीं जाते
Photo | Twitter

अपने बड़बोले विवादित बयान को लेकर हमेशा लाइमलाइट में रहने वाले AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी एक बार फिर राजनीतिक पार्टियों के टारगेट पर हैं। अकबरुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद (Aurangabad) जिले के खुल्दाबाद (Khuldabad) में मुगल सम्राट औरंगजेब की मजार (tomb of the Mughal emperor Aurangzeb) पर चादर और फूल चढ़ाए। इसके बाद पॉलिटिकल पार्टियों ने उन हमले शुरू कर दिए। इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार पूर्व सांसद और शिवसेना नेता चंद्रकांत खैरे ने अकबरुद्दीन को आड़ हाथों लिया कि अकबरुद्दीन एक नया राजनीतिक विवाद खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा वो शासक जिसे इतिहा से में सबसे निर्दयी शासक के तौर पर जाना जाता है.. .उसकी कब्र में न हिंदू जाता है और न ही मुसलमान उसकी मजार पर जाकर माथा टेकना माहौल बिगाड़ने जैसा है। ओवैसी और उनकी पार्टी के नेता राजनीतिक फायदे के लिए विवाद पनपाने करने की कोशिश कर रहे हैं।

Photo | Twitter
Photo | Twitter
ओवैसी के साथ एआईएमआईएम नेता और औरंगाबाद के सांसद इम्तियाज जलील भी थे, उन्होंने ओवैसी का पक्ष करते हुए कहा कि जो कोई भी खुल्दाबाद में दरगाह शरीफ हजरत बाबा शाह मुसाफिर का दौरा करता है... वो आसपास की सभी दरगाहों पर चादर और फूल जरूर चढ़ाता है। जलील ने कहा हमारे नेता हैदराबाद से आए और औरंगाबाद में एक निशुल्क स्कूल शुरू कर रहे हैं, जिसमें सभी समुदाय के बच्चों को फ्री शिक्षा दी जाएगी। बल्कि यहां सभी बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिलेगी। आज उसी की आधारशिला रखी गई। मैं चाहता हूं कि सभी नेता प्रेरित हों।
Photo | Twitter

मनसे: महराष्ट्र सरकार कार्रवाई करे, नहीं तो हम करेंगे

इधर महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के नेता गजानन काले ने ओवैसी की औरंजेब के मकबरे की यात्रा पर आपत्ति जताते हुूए कहा कि महाराष्ट्र सरकार को औरंगजेब की कब्र पर जाने के लिए ओवैसी के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। ऐसा नहीं हुआ तो मनसे कार्रवाई करेगी।

अकबरुद्दीन: मैं उन लोगों के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता जिन्हें अपने घर से ही निकाल दिया गया हो

औरंगाबाद दौरे के दौरान अकबरुद्दीन ओवैसी ने रैली को संबोधित किया। उन्होंने मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाए जाने की मांग कर रहे राज ठाकरे पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि मैं उन लोगों के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता जिन्हें खुद ही अपने घर से निकाल दिया गया... ऐसे लोगों को नजरअंदाज ​करना चाहिए।

अकबरुद्दीन ने कहा जो भी कुत्ता भौंकता है उसे भौंकने दो...

AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे पर आपत्तिजनक टिप्पणी की। अकबरुद्दीन ने औरंगाबाद में आयोजित के सभा में राज ठाकरे का नाम लिए बिना कहा, 'मैं यहां किसी को जवाब देने आया नहीं हूं, ना ही किसी को बुरा कहने। तुम्हारी औकात नहीं है कि मैं जवाब दूं, मेरा तो एक सांसद है और तुम तो बेघर हो, तुम लापता हो, तुम्हे घर से बेदखल किया गया है। मैं तो यह कहूंगा कि जो भी कुत्ता भौंकता है उसे भौंकने दो।'
अकबरुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा, 'मैं जवाब जरूर देने आऊंगा एक दिन..., आम और खास के मैदान पर अकबरुद्दीन ओवैसी लड़ेगा..., अपने पसंदीदा जगह और पसंदीदा समय, तुम्हारी पसंदीदा जगह पर नहीं, जगह और समय मैं तय करूंगा...।'

हिजाब और अजान पर सवाल उठ रहे हैं...

ओवैसी ने आगे कहा मुल्क में नफरत की बातें की जा रही हैं..., लेकिन हम नफरत से नहीं बल्कि मोहब्बत से जवाब देंगे..। देश में अजान की बात हो रही है..., लिंचिंग और हिजाब की बात हो रही है..., इन पर सवाल उठ रहे हैं... तो डरना नहीं चाहिए बस मुसलमानों को एक साथ इकट्ठा खड़े होने की जरूरत है...।

Related Stories

No stories found.