भगवंत मान की घोषणा: पंजाब में होगी राशन की डोर-टु-डोर डिलीवरी, केजरीवाल बोले- केंद्र हमारी हर योजना पर लगाता है रोक

भगवंत मान ने कहा, 'आजादी के 75 साल बाद भी हमारे लोग कतारों में खड़े हैं। आज हम इस व्यवस्था को बदलने जा रहे हैं। अब हमारी बुजुर्ग माताओं को राशन के लिए घंटों लाइन में नहीं लगना पड़ेगा।
भगवंत मान की घोषणा: पंजाब में  होगी राशन की डोर-टु-डोर डिलीवरी, केजरीवाल बोले- केंद्र हमारी हर योजना पर लगाता है रोक
दिल्ली की तरह अब पंजाब में भी राशन की डोर स्टेप डिलीवरी होगी। इसकी घोषणा पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने की। दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फेंस कर केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया कि हमें काम करने से रोका जाता है।तस्वीर- AVP News

दिल्ली की तरह अब पंजाब में भी राशन की डोर स्टेप डिलीवरी होगी। इसकी घोषणा पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने की। दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फेंस कर केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया कि हमें काम करने से रोका जाता है।

भगवंत मान ने कहा, 'आजादी के 75 साल बाद भी हमारे लोग कतारों में खड़े हैं। आज हम इस व्यवस्था को बदलने जा रहे हैं। अब हमारी बुजुर्ग माताओं को राशन के लिए घंटों लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। किसी को भी अपनी दैनिक मजदूरी नहीं छोड़नी पड़ेगी। आज मैंने तय किया है कि आपकी सरकार आपके घर राशन पहुंचाएगी’

पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि उनकी सरकार डोरस्टेप डिलीवरी सेवाओं को लागू करेगी।
पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि उनकी सरकार डोरस्टेप डिलीवरी सेवाओं को लागू करेगी।तस्वीर- ZEE News

केजरीवाल ने किया था ऐलान

हाल ही में हुए पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि उनकी सरकार डोरस्टेप डिलीवरी सेवाओं को लागू करेगी। आप सरकार ने सबसे पहले दिल्ली में यह व्यवस्था लागू की थी।

भगवंत मान ने कहा कि दिल्ली में भी यह योजना अरविंद केजरीवाल की सरकार ने लागू की थी। हालांकि आपको बता दें कि यह योजना फिलहाल दिल्ली में लागू नहीं है। यह योजना प्रतिबंधित है।

दिल्ली में डोरस्टेप डिलीवरी

दिल्ली सरकार की डोरस्टेप डिलीवरी योजना के तहत, केजरीवाल सरकार ने जाति और विवाह प्रमाण पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस और नए पानी के कनेक्शन सहित 40 आवश्यक सार्वजनिक सेवाओं की होम डिलीवरी का वादा किया था।

केंद्र सरकार हमारी हर योजना पर रोक लगाती है- केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि हमारी हर योजना को रोका जा रहा है। केजरीवाल ने कहा कि आज मुझे बहुत खुशी है, पंजाब की भगवंत मान सरकार ने राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना लागू करने की घोषणा की है।

जल्द ही यह योजना पंजाब में लागू की जाएगी। इससे गरीबों को काफी फायदा होगा। लोगों के घरों तक राशन पहुंच सकेगा। हम चार साल से दिल्ली में राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना को लागू करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन हमारी योजना को ठंडे बस्ते में डाला जा रहा है। केंद्र सरकार हमारी हर योजना पर रोक लगाती है। हमें काम करने से रोका जाता है।

सीएम बनते ही उन्होंने अपने वादे के मुताबिक भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। इस नंबर पर लोग व्हाट्सएप के जरिए भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकेंगे।यह नम्बर है- 9501200200
सीएम बनते ही उन्होंने अपने वादे के मुताबिक भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। इस नंबर पर लोग व्हाट्सएप के जरिए भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकेंगे।यह नम्बर है- 9501200200तस्वीर- Hindustan

2018 में, दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने डोरस्टेप डिलीवरी योजना के माध्यम से शासन को लोगों के दरवाजे तक पहुँचाया। लेकिन दिल्ली में राशन की डिलीवरी नहीं हो रही है। भगवंत मान सीएम बनने के बाद से एक्शन में नजर आ रहे हैं।

सीएम बनते ही उन्होंने अपने वादे के मुताबिक भ्रष्टाचार विरोधी हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। इस नंबर पर लोग व्हाट्सएप के जरिए भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकेंगे। मान ने एक वीडियो संदेश में कहा था, 'मैंने आपसे वादा किया था कि 23 मार्च को मैं एक फोन नंबर जारी करूंगा, जिसे 'भ्रष्टाचार विरोधी कार्रवाई' कहा जाएगा। यह नम्बर है- 9501200200.'

दिल्ली की तरह अब पंजाब में भी राशन की डोर स्टेप डिलीवरी होगी। इसकी घोषणा पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने की। दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फेंस कर केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया कि हमें काम करने से रोका जाता है।
The Kashmir Files: केजरीवाल का PM मोदी पर हमला -कहा‚ 8 साल बाद भी विवेक अग्निहोत्री के चरणों में शरण लेनी पड़े तो इसका मतलब है उन्होंने कोई काम नहीं किया

Related Stories

No stories found.