महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पर पॉलिटिकल ड्रामा, मातोश्री के बाहर पाठ करने के बयान पर शिवसैनिक नवनीत राणा के घर घुसे, राउत बोले ये बंटी-बबली का सियासी स्टंट

अमरावती से सांसद नवनीत राणा ने आज मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ (Hanuman Chalisa Controversy In Maharashtra) करने का ऐलान किया। उनके इस ऐलान के बाद महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी पारा चढ़ गया है। नाराज शिवसैनिकों ने नवनीत राणा के घर के बाहर जमकर हंगामा किया। कार्यकर्ता बेरिकेड्स तोड़कर अंदर घुस गए। वहीं इस हंगामे के बाद नवनीत राणा का कहना है कि, मैं नीचे जाऊंगी, गेट के बाहर भी जाऊंगी और मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ भी करूंगी।
महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पर पॉलिटिकल ड्रामा, मातोश्री के बाहर पाठ करने के बयान पर शिवसैनिक नवनीत राणा के घर घुसे, राउत बोले ये बंटी-बबली का सियासी स्टंट

Hanuman Chalisa Politics: महाराष्ट्र में मनसे प्रमुख राज ठाकरे से शुरू किए गए हनुमान चालीसा विवाद (Hanuman Chalisa Controversy In Maharashtra) में अब निर्दलीय सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) भी कूद गईं हैं और यह लड़ाई अब उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री तक पहुंच गई है। दरअसल अमरावती से सांसद नवनीत राणा ने आज मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने का ऐलान किया। उनके इस ऐलान के बाद महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी पारा चढ़ गया है।

इस ऐलान के बाद शनिवार सुबह नाराज शिवसैनिकों ने नवनीत राणा (Navneet Rana) के घर के बाहर जमकर हंगामा किया। कार्यकर्ता बेरिकेड्स तोड़कर अंदर घुस गए। वहीं इस हंगामे के बाद नवनीत राणा का कहना है कि, मैं नीचे जाऊंगी, गेट के बाहर भी जाऊंगी और मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ भी करूंगी। मुझे कोई नहीं रोक सकता। अगर मुझ पर कोई हमला होता है तो इसकी जिम्मेदारी सीएम की होगी।

नवनीत FB पेज पर आकर बोलीं: हनुमान चालीसा से उद्धव ठाकरे को क्या परेशानी है...

नवनीत राणा ने अपने फ़ेसबुक पेज पर लाइव आईं, उन्होंने कहा, " आज सुबह से ही उद्धव ठाकरेजी ने हमारे घर के सामने शिव सैनिक भेज दिए। मुझे नहीं समझ में आ रहा है कि हनुमान चालीसा से उन्हें दिक़्क़त क्या है.... मैंने उनके घर के बाहर जाकर चालीसा का पाठ करने को कहा है मैं उनके घर में तो नहीं घुस रही....। हम अपने घर हनुमानजी की पूजा करके जैसे ही बाहर निकले पुलिस-प्रशासन के अमले ने हमें घेर लिया कि आप नहीं घर से नहीं निकल सकते। ''

नवनीत राणा को मिली वाई श्रेणी की सुरक्षा

इस ऐलान के बाद मुंबई पुलिस ने सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) को भी नोटिस भेजा है। इस नोटिस में सीएम उद्धव ठाकरे के घर के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने पर रोक लगाई गई है। मुंबई पुलिस ने साफ कर दिया है कि अगर रवि राणा या नवनीत राणा अपने घर से बाहर निकलने की कोशिश करेंगे तो उन्हें बाहर नहीं जाने दिया जाएगा। अगर वे जबरदस्ती करेंगे तो पुलिस कार्रवाई करेगी। बता दें कि नवनीत राणा ने आज सुबह 9 बजे मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ शुरू करने की घोषणा की थी। वहीं, इस विवाद के बाद के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने नवनीत राणा को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है।

संजय राउत बोले: ये 'बंटी-बबली'धर्म की आड़ में स्टंट कर रहे हैं

इस बीच शिवसेना ने सांसद नवनीत राणा पर जमकर हमला बोला। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि यह धर्म की आड़ में स्टंट है। उन्होंने नवनीत और उनके विधायक पति बंटी-बबली बताया। उधर, शिवसैनिक भी इस घोषणा के बाद एक्शन में आ गए हैं। मातोश्री पर शिवसैनिकों की भीड़ के कारण वेस्टर्न एक्सप्रेस-वे पर अंधेरी से बांद्रा जाने वाली सड़क पर भीषण जाम लग गया।

कौन हैं नवनीत राणा (Navneet Rana) ?

नवनीज राणा का पूरा नाम नवनीत कौर राणा है। उनका जन्म मुंबई में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। नवनीत के पिता आर्मी में थे। राणा ने 12वीं के बाद पढ़ाई छोड़ दी और मॉडलिंग के क्षेत्र को चुना और उसमें अपना करियर बनाया। मॉडलिंग के अलावा, उन्होंने तेलुगु, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी और कुछ हिंदी फिल्मों में भी काम किया। नवनीत की शादी रवि राणा से हुई थी और उनसे शादी करने के बाद ही उन्होंने राजनीति में कदम रखा था।
उन्होंने 2014 का लोकसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ा लेकिन हार गईं। वहीं 2019 में एनसीपी और कांग्रेस के समर्थन से अमरावती से निर्दलीय सांसद चुनी गईं। उन्होंने इस सीट पर शिवसेना के उम्मीदवार को हराया था। नवनीत के पति रवि राणा महाराष्ट्र में निर्दलीय विधायक हैं और योग गुरु बाबा रामदेव के भतीजे हैं।
महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पर पॉलिटिकल ड्रामा, मातोश्री के बाहर पाठ करने के बयान पर शिवसैनिक नवनीत राणा के घर घुसे, राउत बोले ये बंटी-बबली का सियासी स्टंट
अलवर में 300 साल पुराने मंदिर पर चला बुलडोजर, ड्रिल मशीन से शिवलिंग भी तोड़ा, BJP ने कहा कार्रवाई गलत‚ कांग्रेसः मंदिर तो बीजेपी राज में भी टूटे

Related Stories

No stories found.