कांग्रेस को यहां के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नजर नहीं आती है: CP जोशी

News: कांग्रेस की कद्दावर नेता व संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी की राजस्थान से राज्यसभा उम्मीदवारी पर नेताओं की प्रतिक्रियाएं आने का सिलसिला जारी है।
कांग्रेस को यहां के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नजर नहीं आती है: CP जोशी
कांग्रेस को यहां के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नजर नहीं आती है: CP जोशी

News: कांग्रेस की कद्दावर नेता व संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी की राजस्थान से राज्यसभा उम्मीदवारी पर नेताओं की प्रतिक्रियाएं आने का सिलसिला जारी है।

कांग्रेस के नेता जहां सोनिया गांधी के इस रुख का स्वागत करते नहीं थक रहे हैं, वहीं प्रमुख प्रतिद्वंदी दल भाजपा के नेता कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस को राजस्थान के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नज़र नहीं आती है।

BJP प्रदेशाध्यक्ष CP JOSHI ने सोनिया गांधी को 'बाहरी' बताते कांग्रेस पर बयानी वार किया है। जोशी ने अपने बयान में कहा कि कांग्रेस पार्टी का अब तक का इतिहास रहा है कि राजस्थान में अब तक राज्य सभा चुनाव लड़ने बाहरी ही आते रहे हैं।

इससे साफ है कि कांग्रेस को यहां के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नज़र नहीं आती है। वैसे तो ये कांग्रेस पार्टी का अंदरूनी मामला है, लेकिन बेहतर होता कि राज्यसभा चुनाव में स्थानीय नेताओं को वरीयता दी जाती।

गहलोत बोले सोनिया गांधी एक महान नेता

इधर, पूर्व CM अशोक गहलोत सोनिया गांधी की राजस्थान से राज्य सभा चुनाव में उम्मीदवारी को लेकर बेहद खुश नज़र आ रहे हैं। जयपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में गहलोत ने कहा, 'सोनिया गांधी एक महान नेता है, जिन्होंने प्रधानमंत्री पद तक छोड़ दिया।

वे किसी भी राज्य से राज्यसभा सदस्य बन सकती थीं, लेकिन उन्होंने राजस्थान को ही चुना है। अब इस खबर की चर्चा देश-दुनिया तक होगी।'

पूर्व सीएम ने कहा, 'कोई इतना अनुभवी व्यक्ति यहां से अपना नामांकन दाखिल करने आ रहा है। आप कल्पना कर सकते हैं कि हम सब कितने गौरवान्वित हैं। NDA सरकार भी अब सतर्क हो जाएगी।

प्रियंका लड़ सकती है, रायबरेली से चुनाव

राजस्थान से राज्यसभा की तीन सीटों पर राज्यसभा के चुनाव हो रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। वहीं कांग्रेस राजस्थान से एक सीट पर चुनाव जीत सकती है।

77 साल की सोनिया गांधी 1999 में अमेठी व बेल्लारी से लोकसभा चुनाव जीतकर पहली सांसद बनी थी। हालांकि बेल्लारी से उन्होंने इस्तीफा दे दिया था।

वहीं 2004 में अमेठी से राहुल गांधी चुनाव लड़े, जिसके चलते गांधी परिवार की परंपरागत रायबरेली सीट से सोनिया गांधी चुनाव लड़ी।

तब से अब तक रायबरेली से वे सांसद निर्वाचित होती आ रही है। उनकी जगह रायबरेली से प्रियंका गांधी को लोकसभा चुनाव लड़ाया जा सकता है।

सोनिया गांधी की उम्र अधिक होने के साथ उनके खराब सेहत के चलते वे चुनाव प्रचार व बैठकों से दूर रहती है। यही वजह है कि अब उन्हें राज्यसभा भेजा जा रहा है। उनकी जगह रायबरेली से प्रियंका गांधी को लोकसभा चुनाव लड़ाया जा सकता है।

कांग्रेस को यहां के स्थानीय नेताओं में कोई योग्यता नजर नहीं आती है: CP जोशी
अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर से बौखलाए इस्लामी कट्टरपंथी, UAE के शासक को दें रहे गाली

Related Stories

No stories found.
logo
Since independence
hindi.sinceindependence.com