बृज 84 कोसः अवैध खनन मामले में BJP ने की CBI जांच की मांग

बीजेपी ने भरतपुर में अवैध खनन मामले में गहलोत सरकार के मंत्रियों और अधिकारियों की संलिप्तता का आरोप लगाया और इस मामले की जांच CBI से कराने की मांग की।
बृज 84 कोसः अवैध खनन मामले में BJP ने की CBI जांच की मांग

बृज में अवैध खननः बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने राजस्थान के भरतपुर में संदिग्ध अवैध खनन में राज्य सरकार के मंत्रियों और अधिकारियों की संलिप्तता का आरोप लगाते हुए इस मामले की जांच CBI से कराने की मांग की है। पिछले दिनों राजस्थान के भरतपुर में विजय दास नामक साधु ने आत्मदाह करने की कोशिश के बाद दिल्ली हॉस्पिटल में उनका निधन हो गया था।

जांच समिति ने नड्डा को सौपीं रिपोर्ट

भरतपुर के डींग में अवैध खनन के खिलाफ हुए एक आंदोलन में विजय दास शामिल थे। इस मामले की जांच के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी की एक जांच समिति गठित की थी। समिति ने मौके पर जाकर इसकी छानबीन कर बुधवार को नड्डा को एक रिपोर्ट सौंपी। इस समिति में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, सांसद स्वामी सुमेधानंद सरस्वती, पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद सत्यपाल सिंह, उत्तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक और सांसद बृजलाल यादव शामिल थे।

जे.पी. नड्डा ने ट्वीट में कहा - यह रिपोर्ट राजस्थान की निराशाजनक स्थिति और वहां व्यापक स्तर पर चल रहे खनन माफिया राज का खुलासा करती है।

साधु-संत चाहते है सीबीआई जाँच

अरुण सिंह ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को लेकर जनता के खिलाफ भारी नाराजगी है और यह भावना है कि दास का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि अवैध खनन स्थल में कुछ पवित्र हिन्दू स्थान हैं और इसके खिलाफ वहां के साधु-संत करीब 551 दिनों से आंदोलन कर रहे थे लेकिन राजस्थान सरकार के मंत्रियों ने अक्सर उनका मजाक ही उड़ाया।

समिति ने भरतपुर के मान मंदिर ट्रस्ट का किया दौरा

अरुण सिंह और समिति में शामिल भाजपा नेताओं ने भरतपुर के मान मंदिर ट्रस्ट का दौरा किया और कईं साधु और संतों से भी चर्चा की। उन्होंने साधु और संतों के हवाले से कहा कि यह पूरा अवैध खनन राजस्थान सरकार के संरक्षण में हो रहा था और सरकार के मंत्री की इसमें सीधी संलिप्तता है साथ ही अधिकारियों की भी मिलीभगत है। सिंह ने कहा कि राजस्थान सरकार निष्पक्ष जांच नहीं कर सकती इसलिए साधु-संत सीबीआई जाँच चाहते है और हम उनकी इस मांग का समर्थन करते हैं इसमें सीबीआई जांच होनी चाहिए।

बृज 84 कोसः अवैध खनन मामले में BJP ने की CBI जांच की मांग
बृज 84 कोसः आखिर क्यों खनन रोकने के लिए संत विजय दास को अपने जीवन की बलि देनी पड़ी?

Related Stories

No stories found.
Since independence
hindi.sinceindependence.com