कोटा ACB का एक्शन : PWD अधिकारी रिश्वत लेते ट्रैप, 10 लाख के बिल पास करने की एवज में मांगे थे 33 हजार रुपए

कोटा में बुधवार को ACB ने करप्शन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। यहां ACB ने एक PWD अधिकारी को रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया।
कोटा ACB का एक्शन : PWD अधिकारी रिश्वत लेते ट्रैप, 10 लाख के बिल पास करने की एवज में मांगे थे 33 हजार रुपए

कोटा में बुधवार को ACB ने करप्शन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। यहां ACB ने एक PWD अधिकारी को रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है कि आरोपी ने कार्यपालक इंजीनियर(XEN) से ठेकेदार का बिल पास करवाने के एवज में रिश्वत की मांग की।

18 हजार रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार XEN अधिकारी

कोटा ACB ने PWD विभाग के कार्यपालक इंजीनियर(XEN) को 18 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चन्द्रशील ने बताया की सिंधी कॉलोनी निवासी परिवादी रमेश चंचलानी ने कोरोना काल वर्ष 2020-21 में डीजी जनरेटर के कार्य किए थे। जिसका 10 लाख रुपए का भुगतान होना था। ऐसे में गोरवपथ कापरेशन के स्ट्रीट लाइट का फाइनल बिल पास और अपने और अपने बेटे की फर्म की एसीआर रिपोर्ट सही बनाने की एवज में पीब्ल्यूडी इलेक्ट्रीकल के XEN अधिकारी अवध बिहारी मकवाना ने रिश्वत की मांग की थी।

सत्यापन के लिए ACB ने बताई 15 हजार देने की बात

कोटा ACB ने परिवादी की शिकायत का सत्यापन करवाने के लिए 15 हजार रूपए अभी और शेष राशि बाद में दिए जाने की बात कही। कार्यपालक इंजीनियर ने परिवादी से 15 हजार रुपये प्राप्त किए और शेष राशि आज देने की बात कही।

रिश्वत की शेष राशि लेते पकड़ा गया आरोपी XEN

 अवध बिहारी मकवाना
अवध बिहारी मकवाना

परिवादी रिश्वत के बाकी बचे पैसे बुधवार को XEN अधिकारी को देने PWD विभाग पहुंचा। यहां परिवादी ने शेष 18 हजार रिश्वत के पैसे एक्सईएन को दिए। परिवादी का इशारा मिलते ही टीम ने एक्सईएन को रिश्वत की राशि के साथ दबोच लिया। आरोपी अधिकारी ने रिश्वत की राशि पर्दे के पीछे रख दी थी। वहीं एक्सईएन के पकडे जाने के बाद कई पीड़ित ठेकेदार भी सामने आए है। हांलाकि अभी किसी भी ठेकेदार ने एसीबी को शिकायत नहीं दी है।

Related Stories

No stories found.